Sep 19, 2021 · 1 min read

” ननदि आ भाउज “

डॉ लक्ष्मण झा ” परिमल ”
==============
कोना कहू हम
बड़की भौजी
आब नऽ रहब कुमारि !
भरल आजु
मधुमासक यौवन
मधुप करैत अछि मारि !!

यौवन जल
भरि गेल आजु
उद्वेलित
होइछ
लहर जकर !
उत्पात मचौने
अछि इ मन
वर्णन जूनि नहि
करब तकर !!

आब नऽ आशा
किरण देखाऊ
भने दिए
किछू हमरा गारि !
भरल आजु
मधुमासक यौवन
मधुप करैत अछि मारि !!

संगी हमर
चलि गेल
पतिक घर
फूल फुलायल
आ भरि गेल !
जे आशा
देने रहि हमरा
ओ सब
आइ हमर
जरि गेल !!

आर कतेक
दिन करब
तपस्या
हमहूँ त छी
एक सुंदर नारि !
भरल आजु
मधुमासक यौवन
मधुप करैत अछि मारि !!

जीवन -पथ
सुंदर
होइत छैक
जखन संग
कियो संगी !
बिना संग केर
किछु नहि जीवन
तार रहित सारंगी !!

शेष भेल
इ उक्ति हमर इ
लदल वृक्ष
केँ लिय सम्हारि !
भरल आजु
मधुमासक यौवन
मधुप करैत अछि मारि !!

कोना कहू हम
बड़की भौजी
आब नऽ रहब कुमारि !
भरल आजु
मधुमासक यौवन
मधुप करैत अछि मारि !!

=================

डॉ लक्ष्मण झा ” परिमल ”
साउंड हेल्थ क्लिनिक
एस ० पी ० कॉलेज रोड
दुमका
झारखंड
भारत

1 Like · 1 Comment · 129 Views
You may also like:
श्रीराम
सुरेखा कादियान 'सृजना'
पापा वो बचपन के
Khushboo Khatoon
कच्चे आम
Prabhat Ranjan
आज का विकास या भविष्य की चिंता
Vishnu Prasad 'panchotiya'
पंचशील गीत
Buddha Prakash
विद्या पर दोहे
Dr. Sunita Singh
पिता जी का आशीर्वाद है !
Kuldeep mishra (KD)
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग ५]
Anamika Singh
कौन किसके बिन अधूरा है
Ram Krishan Rastogi
कर्ज भरना पिता का न आसान है
आकाश महेशपुरी
हालात
Surabhi bharati
परिवार दिवस
Dr Archana Gupta
🌺🌺Kill your sorrows with your willpower🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तितली रानी (बाल कविता)
Anamika Singh
भोपाल गैस काण्ड
Shriyansh Gupta
ममता की फुलवारी माँ हमारी
Dr. Alpa H.
अथक प्रयत्न
Dr.sima
यह तो वक्ती हस्ती है।
Taj Mohammad
हिन्दी साहित्य का फेसबुकिया काल
मनोज कर्ण
हमारी प्यारी मां
Shriyansh Gupta
माँ की परिभाषा मैं दूँ कैसे?
Jyoti Khari
हम भी है आसमां।
Taj Mohammad
दर्पण!
सेजल गोस्वामी
शेर राजा
Buddha Prakash
हाइकु__ पिता
Manu Vashistha
जबसे मुहब्बतों के तरफ़दार......
अश्क चिरैयाकोटी
पिता के होते कितने ही रूप।
Taj Mohammad
उसके मेरे दरमियाँ खाई ना थी
Khalid Nadeem Budauni
दहेज़
आकाश महेशपुरी
यादें आती हैं
Krishan Singh
Loading...