Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Aug 2023 · 1 min read

🇮🇳 मेरी माटी मेरा देश 🇮🇳

🇮🇳 मेरी माटी मेरा देश 🇮🇳

भारत मां के वीर सपूत मैं,
पल पल जय जयकार लिखूं।
लिखूं तुम्हारे बलिदानों को ,
बस भारत माँ से प्यार लिखूं।।
डॉ मंजु सैनी
गाज़ियाबाद

1 Like · 332 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Manju Saini
View all
You may also like:
जोकर
जोकर
Neelam Sharma
किसान
किसान
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
जहाँ जिंदगी को सुकून मिले
जहाँ जिंदगी को सुकून मिले
Ranjeet kumar patre
...,,,,
...,,,,
शेखर सिंह
*मोती बनने में मजा, वरना क्या औकात (कुंडलिया)*
*मोती बनने में मजा, वरना क्या औकात (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
प्रभु गुण कहे न जाएं तुम्हारे। भजन
प्रभु गुण कहे न जाएं तुम्हारे। भजन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
वह स्त्री / MUSAFIR BAITHA
वह स्त्री / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
एहसासों से भरे पल
एहसासों से भरे पल
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
सोच ऐसी रखो, जो बदल दे ज़िंदगी को '
सोच ऐसी रखो, जो बदल दे ज़िंदगी को '
Dr fauzia Naseem shad
3145.*पूर्णिका*
3145.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
पर्दा हटते ही रोशनी में आ जाए कोई
पर्दा हटते ही रोशनी में आ जाए कोई
कवि दीपक बवेजा
* शक्ति है सत्य में *
* शक्ति है सत्य में *
surenderpal vaidya
तू मुझे क्या समझेगा
तू मुझे क्या समझेगा
Arti Bhadauria
तुम ही सुबह बनारस प्रिए
तुम ही सुबह बनारस प्रिए
विकास शुक्ल
“गुप्त रत्न”नहीं मिटेगी मृगतृष्णा कस्तूरी मन के अन्दर है,
“गुप्त रत्न”नहीं मिटेगी मृगतृष्णा कस्तूरी मन के अन्दर है,
गुप्तरत्न
कविता कि प्रेम
कविता कि प्रेम
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
■ नेशनल ओलंपियाड
■ नेशनल ओलंपियाड
*प्रणय प्रभात*
नेताजी सुभाषचंद्र बोस
नेताजी सुभाषचंद्र बोस
ऋचा पाठक पंत
हिन्दी दोहा-विश्वास
हिन्दी दोहा-विश्वास
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
सितारा
सितारा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
साल भर पहले
साल भर पहले
ruby kumari
राज
राज
Neeraj Agarwal
Outsmart Anxiety
Outsmart Anxiety
पूर्वार्थ
लोग कह रहे हैं राजनीति का चरित्र बिगड़ गया है…
लोग कह रहे हैं राजनीति का चरित्र बिगड़ गया है…
Anand Kumar
"उड़ान"
Yogendra Chaturwedi
ग्रंथ
ग्रंथ
Tarkeshwari 'sudhi'
हम अपनों से न करें उम्मीद ,
हम अपनों से न करें उम्मीद ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
वो नए सफर, वो अनजान मुलाकात- इंटरनेट लव
वो नए सफर, वो अनजान मुलाकात- इंटरनेट लव
कुमार
कहो तो..........
कहो तो..........
Ghanshyam Poddar
मनोरम तेरा रूप एवं अन्य मुक्तक
मनोरम तेरा रूप एवं अन्य मुक्तक
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Loading...