Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Sep 2023 · 1 min read

■ होशियार भून रहे हैं। बावले भुनभुना रहे हैं।😊

■ होशियार भून रहे हैं। बावले भुनभुना रहे हैं।😊

1 Like · 54 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"गुलशन"
Dr. Kishan tandon kranti
मेरे हैं बस दो ख़ुदा
मेरे हैं बस दो ख़ुदा
The_dk_poetry
*पुरखों की संपत्ति बेचकर, कब तक जश्न मनाओगे (हिंदी गजल)*
*पुरखों की संपत्ति बेचकर, कब तक जश्न मनाओगे (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
📍बस यूँ ही📍
📍बस यूँ ही📍
Dr Manju Saini
जहां चू.............T है, वहां सारी छूट है।
जहां चू.............T है, वहां सारी छूट है।
SPK Sachin Lodhi
■ अंतर...
■ अंतर...
*Author प्रणय प्रभात*
💐अज्ञात के प्रति-145💐
💐अज्ञात के प्रति-145💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ख़्वाबों की दुनिया
ख़्वाबों की दुनिया
Dr fauzia Naseem shad
#drarunkumarshastri
#drarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
दीवार में दरार
दीवार में दरार
VINOD CHAUHAN
तूफ़ान और मांझी
तूफ़ान और मांझी
DESH RAJ
राखी धागों का त्यौहार
राखी धागों का त्यौहार
Mukesh Kumar Sonkar
रक्षा बंधन
रक्षा बंधन
bhandari lokesh
पहले एक बात कही जाती थी
पहले एक बात कही जाती थी
DrLakshman Jha Parimal
बच्चे कहाँ सोयेंगे...???
बच्चे कहाँ सोयेंगे...???
Kanchan Khanna
यश तुम्हारा भी होगा।
यश तुम्हारा भी होगा।
Rj Anand Prajapati
आज के दिन छोटी सी पिंकू, मेरे घर में आई
आज के दिन छोटी सी पिंकू, मेरे घर में आई
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
लिखते दिल के दर्द को
लिखते दिल के दर्द को
पूर्वार्थ
मातर मड़ई भाई दूज
मातर मड़ई भाई दूज
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
भुला ना सका
भुला ना सका
Dr. Mulla Adam Ali
लेके फिर अवतार ,आओ प्रिय गिरिधर।
लेके फिर अवतार ,आओ प्रिय गिरिधर।
Neelam Sharma
अस्तित्व
अस्तित्व
Shyam Sundar Subramanian
मौन देह से सूक्ष्म का, जब होता निर्वाण ।
मौन देह से सूक्ष्म का, जब होता निर्वाण ।
sushil sarna
तुझसे वास्ता था,है और रहेगा
तुझसे वास्ता था,है और रहेगा
Keshav kishor Kumar
"खामोशी की गहराईयों में"
Pushpraj Anant
2724.*पूर्णिका*
2724.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मीलों का सफर तय किया है हमने
मीलों का सफर तय किया है हमने
कवि दीपक बवेजा
मित्रता तुम्हारी हमें ,
मित्रता तुम्हारी हमें ,
Yogendra Chaturwedi
आस्था और चुनौती
आस्था और चुनौती
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
किस्से हो गए
किस्से हो गए
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Loading...