Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Jul 2016 · 1 min read

ग़ज़ल(दूर रह कर हमेशा हुए फासले )

ग़ज़ल(दूर रह कर हमेशा हुए फासले )

दूर रह कर हमेशा हुए फासले ,चाहें रिश्तें कितने क़रीबी क्यों ना हों
कर लिए बहुत काम लेन देन के ,विन मतलब कभी तो जाया करो

पद पैसे की इच्छा बुरी तो नहीं मार डालो जमीर कहाँ ये सही
जैसा देखेंगे बच्चे वही सीखेंगें ,पैर अपने माँ बाप के भी दबाया करो

काला कौआ भी है काली कोयल भी है ,कोयल सभी को भाती क्यों है
सुकूँ दे चैन दे दिल को ,अपने मुहँ में ऐसे ही अल्फ़ाज़ लाया करो

जब सँघर्ष है तब ही मँजिल मिले ,सब कुछ सुबिधा नहीं यार जीबन में है
जिस गली जिस शहर में चला सीखना , दर्द उसके मिटाने भी जाया करो

यार जो भी करो तुम सँभल करो , सर उठे गर्व से ना झुके शर्म से
वक़्त रुकता है किसके लिए ये “मदन” वक़्त ऐसे ही अपना ना जाया करो

ग़ज़ल(दूर रह कर हमेशा हुए फासले )
मदन मोहन सक्सेना

186 Views
You may also like:
■ आलेख / संकीर्णता से मुक्त नहीं मुक्तिबोध की नगरी
*Author प्रणय प्रभात*
" समर्पित पति ”
Dr Meenu Poonia
एउटा मधेशी ठिटो
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
समय देकर तो देखो
Shriyansh Gupta
उम्मीद पूर्ण व सुखद जिंदगी
Aditya Prakash
Writing Challenge- कृतज्ञता (Gratitude)
Sahityapedia
अपनो को।
Pradyumna
नवगीत
Mahendra Narayan
सोच
kausikigupta315
सन्नाटा
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
नन्हा और अतीत
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
Advice
Shyam Sundar Subramanian
मैं सुहागन तेरे कारण
Ashish Kumar
💐💐परेसां न हो हश्र बहुत हसीं होगा💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
एक बर्बाद शायर
Shekhar Chandra Mitra
तूणीर (श्रेष्ठ काव्य रचनाएँ)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
नए नए जज़्बात दे रहा है।
Taj Mohammad
✍️छांव और धुप✍️
'अशांत' शेखर
*स्वच्छता अभियान के सजग प्रहरी को प्रणाम*
Ravi Prakash
Herons
Buddha Prakash
ज़रा सी बात पर ghazal by Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
हिंदी दिवस
बिमल तिवारी आत्मबोध
"डॉ० रामबली मिश्र 'हरिहरपुरी' का
Rambali Mishra
नींद पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
खुशी का नया साल
shabina. Naaz
काफिला यूँ ही
Dr. Sunita Singh
हौंसला
Gaurav Sharma
आँसू
Satish Srijan
पानी में सब गाँव।
Anil Mishra Prahari
Finally, the broken souls have found each other.
Manisha Manjari
Loading...