Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Apr 2023 · 1 min read

हार स्वीकार कर

हार स्वीकार कर

कंटक-पथ है पद धर
ना फिकर कर
टेढे़-मेढे़ रास्तों का
बढ़ धीरज धर
ओ पथिक स्वेद बहा
अटल बन
चढ़ दिशा निरंतर
हो निशा में भी
तमस को पार कर|
गिरना लुढ़कना फिर चढ़ना,
ओ पथिक हार स्वीकार कर||

जीतना है जरूरी किन्तु
हारना भी है
स्वयं को ज्वाला-धार में
उतारना भी है
तज कर प्रेम,मोह,घर
एकान्त मन सहारा कर
धार मुश्किल सागर की
हाथों से नाव किनारा कर
बाना गंभीर आचरण का
ले स्वयं से प्यार कर|
जब पाना है अटल मँजिल,
ओ पथिक हार स्वीकार कर||

यह कुसुम निराले
चकाचौंधी के
पथ से यूँ भटकाए
वो मधुप तन्हा
कितना सच्चा
गीत बुलंदी नित्य गाए
कलियाँ देगी स्नेहाशीष
फूलवारी बागानों में
तब होगा विजय-नाद
कच्चे तेरे मकानों में
असहज मंजिल पाकर
हल्का कंधे का भार कर|
खिले चेहरा टूटा हुआ
ओ पथिक हार स्वीकार कर||

रोहताश वर्मा मुसाफिर

Language: Hindi
1 Like · 392 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
23/58.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/58.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आया जो नूर हुस्न पे
आया जो नूर हुस्न पे
हिमांशु Kulshrestha
पुण्यात्मा के हाथ भी, हो जाते हैं पाप।
पुण्यात्मा के हाथ भी, हो जाते हैं पाप।
डॉ.सीमा अग्रवाल
जरूरी तो नहीं
जरूरी तो नहीं
Awadhesh Singh
सांवले मोहन को मेरे वो मोहन, देख लें ना इक दफ़ा
सांवले मोहन को मेरे वो मोहन, देख लें ना इक दफ़ा
The_dk_poetry
स्वतंत्र नारी
स्वतंत्र नारी
Manju Singh
एक लम्हा है ज़िन्दगी,
एक लम्हा है ज़िन्दगी,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
** सुख और दुख **
** सुख और दुख **
Swami Ganganiya
"बेज़ारे-तग़ाफ़ुल"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
* मिट जाएंगे फासले *
* मिट जाएंगे फासले *
surenderpal vaidya
मेरी फितरत तो देख
मेरी फितरत तो देख
VINOD CHAUHAN
खामोशी ने मार दिया।
खामोशी ने मार दिया।
Anil chobisa
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
तुलसी जयंती की शुभकामनाएँ।
तुलसी जयंती की शुभकामनाएँ।
Anil Mishra Prahari
#दोहा
#दोहा
*Author प्रणय प्रभात*
छुप जाता है चाँद, जैसे बादलों की ओट में l
छुप जाता है चाँद, जैसे बादलों की ओट में l
सेजल गोस्वामी
ज़िंदगी नाम बस
ज़िंदगी नाम बस
Dr fauzia Naseem shad
ओकरा गेलाक बाद हँसैके बाहाना चलि जाइ छै
ओकरा गेलाक बाद हँसैके बाहाना चलि जाइ छै
गजेन्द्र गजुर ( Gajendra Gajur )
*साथ तुम्हारा मिला प्रिये तो, रामायण का पाठ कर लिया (हिंदी ग
*साथ तुम्हारा मिला प्रिये तो, रामायण का पाठ कर लिया (हिंदी ग
Ravi Prakash
निभाना साथ प्रियतम रे (विधाता छन्द)
निभाना साथ प्रियतम रे (विधाता छन्द)
नाथ सोनांचली
पूर्ण-अपूर्ण
पूर्ण-अपूर्ण
Srishty Bansal
गर्मी
गर्मी
Ranjeet kumar patre
माँ की अभिलाषा 🙏
माँ की अभिलाषा 🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
****हमारे मोदी****
****हमारे मोदी****
Kavita Chouhan
सत्यता वह खुशबू का पौधा है
सत्यता वह खुशबू का पौधा है
प्रेमदास वसु सुरेखा
भगवत गीता जयंती
भगवत गीता जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मौहब्बत की नदियां बहा कर रहेंगे ।
मौहब्बत की नदियां बहा कर रहेंगे ।
Phool gufran
चेहरा
चेहरा
नन्दलाल सुथार "राही"
जिंदगी और रेलगाड़ी
जिंदगी और रेलगाड़ी
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
!! चहक़ सको तो !!
!! चहक़ सको तो !!
Chunnu Lal Gupta
Loading...