Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Jun 2023 · 1 min read

हम हैं कक्षा साथी

हम साथ साथ हैं पढ़ते, हैं साथ-साथ रहते
जीना दुश्वार हमारा; एक दूसरे से हट के

हर कोई जानता है, यह जीवन है दो पल का किस्सा
पर इसमें भी विद्यार्थी जीवन है, उस पल का भी छोटा हिस्सा

माता-पिता हमारे, स्कूल भेजते हमें हैं पढ़ने उनकी तमन्ना है कि, हम करें साकार उनके सपने

फिर मार-पीट-झगड़ा, क्या यही करना कर्म हमारा?
इससे मंजिल दूर भागेगी, मिलेगा न हमें किनारा

कर्तव्य को निशाना बनाकर, हमें चाहिए लिखना-पढ़ना
पल-पल को महत्व देकर, चाहिए अपना पथ प्रशस्त करना

हम राही हैं जीवन के, आ गए एक पथ पर
मंजिल पृथक-पृथक है, चलें साथ-साथ हँसकर

समझ लो एक दिन हमें, विद्यालय को होगा छोड़ देना
हम एक-दूसरे से बिछड़ जाएँगे, और यादों में होगा रोना

तब आयेंगी यादें वो दिन, जब साथ-साथ थे रहते शोर-शराबा, धमा-चौकड़ी, लड़ाई-झगड़ा और हँसी-मजाक थे करते

सिर्फ यादें रह जायेंगी, रह जाओगे मन मसोस मसोस कर
दिल तड़प उठेगा अपने, कक्षा साथी से बिछुड़-बिछुड़कर

अत: दो क्षण के इस छात्र जीवन को, हम खुशियों से सजा लें
मिल जुलकर रहे खुशी से, साथियों के हृदय में, अपना स्थान बना लें।

1 Like · 253 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr MusafiR BaithA
View all
You may also like:
शहीद की पत्नी
शहीद की पत्नी
नन्दलाल सुथार "राही"
सुबह भी तुम, शाम भी तुम
सुबह भी तुम, शाम भी तुम
Writer_ermkumar
💐अज्ञात के प्रति-131💐
💐अज्ञात के प्रति-131💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
साधक
साधक
सतीश तिवारी 'सरस'
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀 *वार्णिक छंद।*
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀 *वार्णिक छंद।*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
बाबा महादेव को पूरे अन्तःकरण से समर्पित ---
बाबा महादेव को पूरे अन्तःकरण से समर्पित ---
सिद्धार्थ गोरखपुरी
राह कठिन है राम महल की,
राह कठिन है राम महल की,
Satish Srijan
हम जंगल की चिड़िया हैं
हम जंगल की चिड़िया हैं
ruby kumari
कविता-शिश्कियाँ बेचैनियां अब सही जाती नहीं
कविता-शिश्कियाँ बेचैनियां अब सही जाती नहीं
Shyam Pandey
शनि देव
शनि देव
Sidhartha Mishra
धर्म ज्योतिष वास्तु अंतराष्ट्रीय सम्मेलन
धर्म ज्योतिष वास्तु अंतराष्ट्रीय सम्मेलन
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
Life through the window during lockdown
Life through the window during lockdown
ASHISH KUMAR SINGH
संत रविदास!
संत रविदास!
Bodhisatva kastooriya
बुंदेली दोहा बिषय- बिर्रा
बुंदेली दोहा बिषय- बिर्रा
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
हम बिहार छी।
हम बिहार छी।
Acharya Rama Nand Mandal
फिर से ऐसी कोई भूल मैं
फिर से ऐसी कोई भूल मैं
gurudeenverma198
*खोया अपने आप में, करता खुद की खोज (कुंडलिया)*
*खोया अपने आप में, करता खुद की खोज (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
दूर जाकर क्यों बना लीं दूरियां।
दूर जाकर क्यों बना लीं दूरियां।
सत्य कुमार प्रेमी
3287.*पूर्णिका*
3287.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
फूल खिलते जा रहे
फूल खिलते जा रहे
surenderpal vaidya
दोहे-*
दोहे-*
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
तुम से प्यार नहीं करती।
तुम से प्यार नहीं करती।
लक्ष्मी सिंह
// अमर शहीद चन्द्रशेखर आज़ाद //
// अमर शहीद चन्द्रशेखर आज़ाद //
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
■ क़तआ (मुक्तक)
■ क़तआ (मुक्तक)
*Author प्रणय प्रभात*
Dont judge by
Dont judge by
Vandana maurya
Learn self-compassion
Learn self-compassion
पूर्वार्थ
एक दिन आना ही होगा🌹🙏
एक दिन आना ही होगा🌹🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
शर्म
शर्म
परमार प्रकाश
विश्व कप-2023 का सबसे लंबा छक्का किसने मारा?
विश्व कप-2023 का सबसे लंबा छक्का किसने मारा?
World Cup-2023 Top story (विश्वकप-2023, भारत)
*सपनों का बादल*
*सपनों का बादल*
Poonam Matia
Loading...