Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Feb 2017 · 1 min read

“””””” सफ़र “””””””

न कभी भी ख्त्म होने
वाला सिलसिला
आ फ़िर से निकल
चलें उस सूनी सी
राह पर, जहाँ
न कभी कोई मन्जिल
न कोई अपना
बस बेइन्तेहा
इतेफ़ाक सा मिल
जाना किसी का
खत्म ही नहीं होता
है सफ़र जिंदगी का
छोड़ जाते हैं हम
इस देह को बस
यहीं सब के बीच
और आत्मा का
फ़िर सफ़र किसी
और सफ़र की ओर
ले जा रहा है
कोई अन्चाहत सा
बन इस रूह के साथ
न जाने कब??
खत्म होगा ये
सिल्सिल्ला सफ़र का
हर जीवन के साथ.
हर जीवन के साथ…
अजीत तलवार

Language: Hindi
329 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
View all
You may also like:
सुविचार
सुविचार
Neeraj Agarwal
वह
वह
Lalit Singh thakur
#dr Arun Kumar shastri
#dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
आरजू
आरजू
Kanchan Khanna
बेशर्मी के कहकहे,
बेशर्मी के कहकहे,
sushil sarna
नदिया साफ करेंगे (बाल कविता)
नदिया साफ करेंगे (बाल कविता)
Ravi Prakash
कलम लिख दे।
कलम लिख दे।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
तेरा मेरा साथ
तेरा मेरा साथ
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
सीधी मुतधार में सुधार
सीधी मुतधार में सुधार
मानक लाल मनु
"तलाश में क्या है?"
Dr. Kishan tandon kranti
मेरा और उसका अब रिश्ता ना पूछो।
मेरा और उसका अब रिश्ता ना पूछो।
शिव प्रताप लोधी
2451.पूर्णिका
2451.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
हैं श्री राम करूणानिधान जन जन तक पहुंचे करुणाई।
हैं श्री राम करूणानिधान जन जन तक पहुंचे करुणाई।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
मुझको चाहिए एक वही
मुझको चाहिए एक वही
Keshav kishor Kumar
हे राम ।
हे राम ।
Anil Mishra Prahari
कभी भी व्यस्तता कहकर ,
कभी भी व्यस्तता कहकर ,
DrLakshman Jha Parimal
परित्यक्ता
परित्यक्ता
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
■ बड़ा सवाल...
■ बड़ा सवाल...
*Author प्रणय प्रभात*
3) “प्यार भरा ख़त”
3) “प्यार भरा ख़त”
Sapna Arora
पर्दा हटते ही रोशनी में आ जाए कोई
पर्दा हटते ही रोशनी में आ जाए कोई
कवि दीपक बवेजा
मकर संक्रांति
मकर संक्रांति
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
जीव-जगत आधार...
जीव-जगत आधार...
डॉ.सीमा अग्रवाल
खोया है हरेक इंसान
खोया है हरेक इंसान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
* श्री ज्ञानदायिनी स्तुति *
* श्री ज्ञानदायिनी स्तुति *
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
*****खुद का परिचय *****
*****खुद का परिचय *****
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
कभी फुरसत मिले तो पिण्डवाड़ा तुम आवो
कभी फुरसत मिले तो पिण्डवाड़ा तुम आवो
gurudeenverma198
"अकेलापन की खुशी"
Pushpraj Anant
It’s all a process. Nothing is built or grown in a day.
It’s all a process. Nothing is built or grown in a day.
पूर्वार्थ
गज़ल
गज़ल
करन ''केसरा''
गजल सगीर
गजल सगीर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
Loading...