Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Jul 2023 · 1 min read

स्वार्थ सिद्धि उन्मुक्त

पिंजरे में बंद पक्षी की
तरह व्याकुल लोकतंत्र
विधानों का मखौल उड़ा
रहे लोकतंत्र के ही स्तंभ
जन हित के नाम पे बने हैं
जितने भी नियम कानून
वो अब दे नहीं पा रहे देश
की आम जनता को सुकून
सरकारी संस्थानों की शैली
से जनहित का बोध विलुप्त
मानवीय संवेदना का भाव
गुम, स्वार्थ सिद्धि उन्मुक्त
हे ईश्वर मेरे देश के नेताओं
को दो सद्बुद्धि का खास दान
स्वार्थ लोलुपता में बिसराएं
नहीं वो जनता का कल्याण

Language: Hindi
280 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"सवाल"
Dr. Kishan tandon kranti
2999.*पूर्णिका*
2999.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मेरे मरने के बाद
मेरे मरने के बाद
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
*ओ मच्छर ओ मक्खी कब, छोड़ोगे जान हमारी【 हास्य गीत】*
*ओ मच्छर ओ मक्खी कब, छोड़ोगे जान हमारी【 हास्य गीत】*
Ravi Prakash
*
*"संकटमोचन"*
Shashi kala vyas
#शेर-
#शेर-
*प्रणय प्रभात*
भगवान श्री परशुराम जयंती
भगवान श्री परशुराम जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
शिव तेरा नाम
शिव तेरा नाम
Swami Ganganiya
साँप का जहर
साँप का जहर
मनोज कर्ण
बचपन के पल
बचपन के पल
Soni Gupta
सारी रात मैं किसी के अजब ख़यालों में गुम था,
सारी रात मैं किसी के अजब ख़यालों में गुम था,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
वाणी से उबल रहा पाणि💪
वाणी से उबल रहा पाणि💪
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
जीवन  के  हर  चरण  में,
जीवन के हर चरण में,
Sueta Dutt Chaudhary Fiji
कैसा गीत लिखूं
कैसा गीत लिखूं
नवीन जोशी 'नवल'
निगाहें
निगाहें
Shyam Sundar Subramanian
देव दीपावली
देव दीपावली
Vedha Singh
प्रकृति
प्रकृति
Sûrëkhâ
गुनाह ना करके भी
गुनाह ना करके भी
Harminder Kaur
Milo kbhi fursat se,
Milo kbhi fursat se,
Sakshi Tripathi
की तरह
की तरह
Neelam Sharma
खुद की एक पहचान बनाओ
खुद की एक पहचान बनाओ
Vandna Thakur
बोलती आँखें
बोलती आँखें
Awadhesh Singh
सुंदरता अपने ढंग से सभी में होती है साहब
सुंदरता अपने ढंग से सभी में होती है साहब
शेखर सिंह
सावन बरसता है उधर....
सावन बरसता है उधर....
डॉ.सीमा अग्रवाल
इल्म हुआ जब इश्क का,
इल्म हुआ जब इश्क का,
sushil sarna
तेरी मेरी तस्वीर
तेरी मेरी तस्वीर
Neeraj Agarwal
" पलास "
Pushpraj Anant
पार्वती
पार्वती
लक्ष्मी सिंह
इक नयी दुनिया दारी तय कर दे
इक नयी दुनिया दारी तय कर दे
सिद्धार्थ गोरखपुरी
शिकायत नही तू शुक्रिया कर
शिकायत नही तू शुक्रिया कर
Surya Barman
Loading...