Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-472💐

सुनो,मेरे इश्क़ ने ज़माने की सैर कर ली है,
सिवाए उनके किसने मेरी ख़बर ली ही है,
रंजिश नहीं है,ये सिफ़त लिए हैं मेरे याराँ,
सभी दूरी इक नज़र से ही तय कर ली हैं।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
247 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
व्यक्तित्व की दुर्बलता
व्यक्तित्व की दुर्बलता
Dr fauzia Naseem shad
शीर्षक:इक नज़र का सवाल है।
शीर्षक:इक नज़र का सवाल है।
Lekh Raj Chauhan
साहस
साहस
Shyam Sundar Subramanian
चाहे जितनी देर लगे।
चाहे जितनी देर लगे।
Buddha Prakash
रिद्धि सिद्धि के जन्म दिवस पर
रिद्धि सिद्धि के जन्म दिवस पर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
💐अज्ञात के प्रति-41💐
💐अज्ञात के प्रति-41💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
आयी प्यारी तीज है,झूलें मिलकर साथ
आयी प्यारी तीज है,झूलें मिलकर साथ
Dr Archana Gupta
यूं हर हर क़दम-ओ-निशां पे है ज़िल्लतें
यूं हर हर क़दम-ओ-निशां पे है ज़िल्लतें
Aish Sirmour
#हिंदी_ग़ज़ल
#हिंदी_ग़ज़ल
*Author प्रणय प्रभात*
23/167.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/167.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
पिया मिलन की आस
पिया मिलन की आस
Kanchan Khanna
*महान आध्यात्मिक विभूति मौलाना यूसुफ इस्लाही से दो मुलाकातें*
*महान आध्यात्मिक विभूति मौलाना यूसुफ इस्लाही से दो मुलाकातें*
Ravi Prakash
जब हम छोटे से बच्चे थे।
जब हम छोटे से बच्चे थे।
लक्ष्मी सिंह
कन्यादान
कन्यादान
Shekhar Chandra Mitra
मंत्र :या देवी सर्वभूतेषु सृष्टि रूपेण संस्थिता।
मंत्र :या देवी सर्वभूतेषु सृष्टि रूपेण संस्थिता।
Harminder Kaur
मसला सुकून का है; बाकी सब बाद की बाते हैं
मसला सुकून का है; बाकी सब बाद की बाते हैं
Damini Narayan Singh
मेला दिलों ❤️ का
मेला दिलों ❤️ का
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
हिंदू कट्टरवादिता भारतीय सभ्यता पर इस्लाम का प्रभाव है
हिंदू कट्टरवादिता भारतीय सभ्यता पर इस्लाम का प्रभाव है
Utkarsh Dubey “Kokil”
सच और झूँठ
सच और झूँठ
विजय कुमार अग्रवाल
दोस्ती को परखे, अपने प्यार को समजे।
दोस्ती को परखे, अपने प्यार को समजे।
Anil chobisa
और कितनें पन्ने गम के लिख रखे है साँवरे
और कितनें पन्ने गम के लिख रखे है साँवरे
Sonu sugandh
पहले प्यार का एहसास
पहले प्यार का एहसास
Surinder blackpen
****प्राणप्रिया****
****प्राणप्रिया****
Awadhesh Kumar Singh
वो सब खुश नसीब है
वो सब खुश नसीब है
शिव प्रताप लोधी
" वर्ष 2023 ,बालीवुड के लिए सफ़लता की नयी इबारत लिखेगा "
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
* तेरी सौग़ात*
* तेरी सौग़ात*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
रमेशराज की गीतिका छंद में ग़ज़लें
रमेशराज की गीतिका छंद में ग़ज़लें
कवि रमेशराज
अक्सर लोगों को बड़ी तेजी से आगे बढ़ते देखा है मगर समय और किस्म
अक्सर लोगों को बड़ी तेजी से आगे बढ़ते देखा है मगर समय और किस्म
Radhakishan R. Mundhra
" बीता समय कहां से लाऊं "
Chunnu Lal Gupta
कोई हुनर खुद में देखो,
कोई हुनर खुद में देखो,
Satish Srijan
Loading...