Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Apr 2018 · 1 min read

# सांग – देवी गंगामाई # अनुक्रमांक – 1 # पवन पवित्र बहता पाणी, आठो आम रहै चलता, परमगती से भारत के म्हां, गंगे धाम रहै चलता ।। टेक ।।

# सांग – देवी गंगामाई # अनुक्रमांक – 1 #

जवाब – सुखदेव मुनी का। (1)

पवन पवित्र बहता पाणी, आठो याम रहै चलता,
परमगती से भारत के म्हां, गंगे धाम रहै चलता ।। टेक ।।

विष्णु के चरण से निकली गंगा, ज्योतिष बेद-विधि का सार,
हजार चौकड़ी रही सुरग मै, फिर शिवजी नै ली जटा मै धार,
भागीरथ ल्याया मुक्ति पाग्ये, सघड़ के बेटे साठ हजार,
अमृतपान किया सूर्य नै, अंबो जल दिया बेशूमार,
सूर्य का अरथ-सुदर्शन चक्कर, सुबह तै शाम रहै चलता ।।

शक्ति चाली परमलोक मै, ब्रह्मा जी धोरै आई,
उड़ै किन्नर-गंर्धफ, खड़े देवते, ऋषियों की महफिल पाई,
एक राजऋषि का ध्यान डिग्या था, हूर पदमनी दर्शायी,
श्राप तै होया शांतनु राजा, वा होगी गंगा माई,
कर्म संयोग, विधि विधना की, जिक्र तमाम रहै चलता ।।

वशिष्ठ मुनि की गऊ नंदनी, वसु चुराकै लाये थे,
ऋषि कै श्राप तै आठ वसु तो, गंगा जी नै जाये थे,
गंगा जी नै सात वसु, जल कै बीच बहाये थे,
होया आठवां भीष्म राजा, फिर गंगा तै फरमाये थे,
दे वरदान एक पुत्र का, मेरा भी नाम रहै चलता ।।

कृपण का धन शुद्ध होज्या, दान-पुन्न मै लाये तै,
कपटी का भी मन शुद्ध होज्या, ज्ञान गुरू का पाये तै,
पापी का जीवन शुद्ध होज्या, ईश्वर का गुण गाये तै,
कोढी का भी तन शुद्ध होज्या, श्री गंगा जी मै न्हाये तै,
दया-धर्म और न्याय नीति पै, राजेराम रहै चलता ।।

Language: Hindi
1 Comment · 558 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
जला दो दीपक कर दो रौशनी
जला दो दीपक कर दो रौशनी
Sandeep Kumar
आसान कहां होती है
आसान कहां होती है
Dr fauzia Naseem shad
श्राद्ध
श्राद्ध
Mukesh Kumar Sonkar
गुज़रते हैं
गुज़रते हैं
हिमांशु Kulshrestha
3184.*पूर्णिका*
3184.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
गुनाह लगता है किसी और को देखना
गुनाह लगता है किसी और को देखना
Trishika S Dhara
नमन मंच
नमन मंच
Neeraj Agarwal
बचपन का प्यार
बचपन का प्यार
Dr. Pradeep Kumar Sharma
#ग़ज़ल
#ग़ज़ल
*प्रणय प्रभात*
चुगलखोरों और जासूसो की सभा में गूंगे बना रहना ही बुद्धिमत्ता
चुगलखोरों और जासूसो की सभा में गूंगे बना रहना ही बुद्धिमत्ता
Rj Anand Prajapati
चाँद पर रखकर कदम ये यान भी इतराया है
चाँद पर रखकर कदम ये यान भी इतराया है
Dr Archana Gupta
आज की सौगात जो बख्शी प्रभु ने है तुझे
आज की सौगात जो बख्शी प्रभु ने है तुझे
Saraswati Bajpai
मौलिक विचार
मौलिक विचार
डॉ.एल. सी. जैदिया 'जैदि'
" मेरी अनोखी मां "
Dr Meenu Poonia
There are instances that people will instantly turn their ba
There are instances that people will instantly turn their ba
पूर्वार्थ
आज अचानक आये थे
आज अचानक आये थे
Jitendra kumar
देश हे अपना
देश हे अपना
Swami Ganganiya
Don't Be Judgemental...!!
Don't Be Judgemental...!!
Ravi Betulwala
"परिवर्तन"
Dr. Kishan tandon kranti
करवाचौथ (कुंडलिया)
करवाचौथ (कुंडलिया)
गुमनाम 'बाबा'
पेड़ से इक दरख़ास्त है,
पेड़ से इक दरख़ास्त है,
Aarti sirsat
🍁मंच🍁
🍁मंच🍁
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
मेरी हस्ती
मेरी हस्ती
Shyam Sundar Subramanian
यह 🤦😥😭दुःखी संसार🌐🌏🌎🗺️
यह 🤦😥😭दुःखी संसार🌐🌏🌎🗺️
डॉ० रोहित कौशिक
दिखा दो
दिखा दो
surenderpal vaidya
🌼एकांत🌼
🌼एकांत🌼
ruby kumari
ये जो उच्च पद के अधिकारी है,
ये जो उच्च पद के अधिकारी है,
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
राम से बड़ा राम का नाम
राम से बड़ा राम का नाम
Anil chobisa
*रिश्वत ( कुंडलिया )*
*रिश्वत ( कुंडलिया )*
Ravi Prakash
Kitna hasin ittefak tha ,
Kitna hasin ittefak tha ,
Sakshi Tripathi
Loading...