Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Jul 2023 · 1 min read

सवर्ण पितृसत्ता, सवर्ण सत्ता और धर्मसत्ता के विरोध के बिना क

सवर्ण पितृसत्ता, सवर्ण सत्ता और धर्मसत्ता के विरोध के बिना कोई भी स्त्रीवाद और पितृसत्ता विरोध फालतू की कसरत है।

164 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr MusafiR BaithA
View all
You may also like:
" जब तुम्हें प्रेम हो जाएगा "
Aarti sirsat
कौन किसी को बेवजह ,
कौन किसी को बेवजह ,
sushil sarna
Ghazal
Ghazal
shahab uddin shah kannauji
याद आए दिन बचपन के
याद आए दिन बचपन के
Manu Vashistha
वक्त नहीं है
वक्त नहीं है
VINOD CHAUHAN
विरान तो
विरान तो
rita Singh "Sarjana"
■ आज का चिंतन...
■ आज का चिंतन...
*Author प्रणय प्रभात*
**** बातें दिल की ****
**** बातें दिल की ****
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
....नया मोड़
....नया मोड़
Naushaba Suriya
दुख वो नहीं होता,
दुख वो नहीं होता,
Vishal babu (vishu)
झूठी शान
झूठी शान
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कई आबादियों में से कोई आबाद होता है।
कई आबादियों में से कोई आबाद होता है।
Sanjay ' शून्य'
धड़कन धड़कन ( गीत )
धड़कन धड़कन ( गीत )
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
कहां गए बचपन के वो दिन
कहां गए बचपन के वो दिन
Yogendra Chaturwedi
रिश्ते..
रिश्ते..
हिमांशु Kulshrestha
गुनाह लगता है किसी और को देखना
गुनाह लगता है किसी और को देखना
Trishika S Dhara
तुम ही रहते सदा ख्यालों में
तुम ही रहते सदा ख्यालों में
Dr Archana Gupta
ज़िंदादिली
ज़िंदादिली
Dr.S.P. Gautam
💐अज्ञात के प्रति-116💐
💐अज्ञात के प्रति-116💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
लफ़्ज़ों में आप जो
लफ़्ज़ों में आप जो
Dr fauzia Naseem shad
"सियासत में"
Dr. Kishan tandon kranti
दुविधा
दुविधा
Shyam Sundar Subramanian
बड़ी मुश्किल से लगा दिल
बड़ी मुश्किल से लगा दिल
कवि दीपक बवेजा
राजे तुम्ही पुन्हा जन्माला आलाच नाही
राजे तुम्ही पुन्हा जन्माला आलाच नाही
Shinde Poonam
चंदा मामा सुनो ना मेरी बात 🙏
चंदा मामा सुनो ना मेरी बात 🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
23/17.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
23/17.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
सेंधी दोहे
सेंधी दोहे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Dr Arun Kumar Shastri
Dr Arun Kumar Shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मुक्तक
मुक्तक
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
बद मिजाज और बद दिमाग इंसान
बद मिजाज और बद दिमाग इंसान
shabina. Naaz
Loading...