Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Apr 2024 · 2 min read

*सत्य ,प्रेम, करुणा,के प्रतीक अग्निपथ योद्धा,

*भीष्म पितामह की तरह से, कांटो भरी शय्या पर लेटे हुए,
श्री राम भक्त नरेश प्रसाद दुबे ईश्वर की
शरण में जाने को बैचेन रहते।
आंखों से देख नहीं पाते , मन की अंतरात्मा से बातें करते।
स्त्यावदी आदर्शवादी सिद्धांत वादी स्मार्ट सुंदर गोरे भूरी आंखों वाले।
सबके दिलों की बात समझ कर सबका ध्यान रख साथ निभाते।
कभी किसी का बुरा किया न सबका ध्यान रखने वाले।
अपने जीवन काल नियम धर्म लागू कर दूसरों को अहसास करवाते।
भक्ति बिना जीवन संभव नहीं राम नाम जपना रटते प्राण त्यागे।
नयन अश्रु नीर बहाते किसी को कुछ न दिल की बात बतलाते।
जिसके हृदय में राम है बसते उनको क्यों न हनुमान जी है तारते।*जीवन जीने की सीख अच्छे कर्म सत्य वचन दृढ़ संकल्प विश्वास जगाते।*
कभी किसी का बुरा किया नही दूसरों का सहयोग कर हाथ बंटाते।*किस्मत आजमा कर आगे बढ़ते कष्टों को दूर कर सहन शील शांत स्वभाव बन जाते।*
कभी कभी नियम धर्म सिद्धांत वादी चलते जिद्द पे अड़ ही जाते।
नियम के विरुद्ध काम ना हो अडिग रह डट जाते।
जमाखोरी रिश्वत लेने के खिलाफ आवाज उठा सत्य की खातिर आमरण अनशन पे बैठ जाते।
पेड़ पौधे प्रकृति से बेहद लगाव घर की बगिया को सुगंधित महकाते।
संघर्षों से जूझकर पढ़ाई लिखाई पूरी कर अपने दम पर घर द्वार बच्चों की परवरिश कर उनका भाग्य चमकाते।
कर्म सत्य वचन दृढ़ इच्छाशक्ति रखने वाले योद्धा सहन शक्ति की सीमा पार शशि के शिखर पर सविता की नदी किनारे सतीश की सेवा भाव को स्वीकार कर शिवजी ,पार्वती को अकेला छोड़ चले।
शशिकला व्यास शिल्पी✍️
बैचेन मन मस्तिष्क के भाव जब उभर आए हैं।
कलम रुक नही पाए टूटी फूटी भाषा में अभिव्यक्त किया है 🙏🏼😭
अश्रु पूर्ण सादर प्रणाम करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित करती हूं 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐
आपकी यादों को साथ लिए हुए ….हम सभी परिवार जन 🙏🏼

Language: Hindi
3 Likes · 2 Comments · 113 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
ज़िंदगी को जीना है तो याद रख,
ज़िंदगी को जीना है तो याद रख,
Vandna Thakur
साहसी बच्चे
साहसी बच्चे
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मन
मन
Sûrëkhâ
कहना तो बहुत कुछ है
कहना तो बहुत कुछ है
पूर्वार्थ
मन में क्यों भरा रहे घमंड
मन में क्यों भरा रहे घमंड
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
किसकी किसकी कैसी फितरत
किसकी किसकी कैसी फितरत
Mukesh Kumar Sonkar
अहंकार का एटम
अहंकार का एटम
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
मानता हूँ हम लड़े थे कभी
मानता हूँ हम लड़े थे कभी
gurudeenverma198
परतंत्रता की नारी
परतंत्रता की नारी
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
★मृदा में मेरी आस ★
★मृदा में मेरी आस ★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
"राजनीति"
Dr. Kishan tandon kranti
आँख मिचौली जिंदगी,
आँख मिचौली जिंदगी,
sushil sarna
******* प्रेम और दोस्ती *******
******* प्रेम और दोस्ती *******
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
जब किसी व्यक्ति और महिला के अंदर वासना का भूकम्प आता है तो उ
जब किसी व्यक्ति और महिला के अंदर वासना का भूकम्प आता है तो उ
Rj Anand Prajapati
मैं शामिल तुझमें ना सही
मैं शामिल तुझमें ना सही
Madhuyanka Raj
घनाक्षरी छंद
घनाक्षरी छंद
Rajesh vyas
गिरते-गिरते गिर गया, जग में यूँ इंसान ।
गिरते-गिरते गिर गया, जग में यूँ इंसान ।
Arvind trivedi
3204.*पूर्णिका*
3204.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*सरल सुकोमल अन्तर्मन ही, संतों की पहचान है (गीत)*
*सरल सुकोमल अन्तर्मन ही, संतों की पहचान है (गीत)*
Ravi Prakash
आदिपुरुष आ बिरोध
आदिपुरुष आ बिरोध
Acharya Rama Nand Mandal
पीताम्बरी आभा
पीताम्बरी आभा
manisha
🫴झन जाबे🫴
🫴झन जाबे🫴
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
मैं तुम्हें लिखता रहूंगा
मैं तुम्हें लिखता रहूंगा
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
The magic of your eyes, the downpour of your laughter,
The magic of your eyes, the downpour of your laughter,
Shweta Chanda
गुमनामी ओढ़ लेती है वो लड़की
गुमनामी ओढ़ लेती है वो लड़की
Satyaveer vaishnav
मेरी अना को मेरी खुद्दारी कहो या ज़िम्मेदारी,
मेरी अना को मेरी खुद्दारी कहो या ज़िम्मेदारी,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
जिसके लिए कसीदे गढ़ें
जिसके लिए कसीदे गढ़ें
DrLakshman Jha Parimal
" सुर्ख़ गुलाब "
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
मंत्र: सिद्ध गंधर्व यक्षाधैसुरैरमरैरपि। सेव्यमाना सदा भूयात्
मंत्र: सिद्ध गंधर्व यक्षाधैसुरैरमरैरपि। सेव्यमाना सदा भूयात्
Harminder Kaur
Gatha ek naari ki
Gatha ek naari ki
Sonia Yadav
Loading...