Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Mar 2024 · 1 min read

सत्य की खोज

जीवन के रहस्यों में, उलझा हुआ है सत्य,
जाना पहचाना सा है, फिर भी छुपा है सत्य।
रहता निकट ही हमसे, पर दिखाई नहीं देता,
अदृश्य है, फिर भी हर जगह मौजूद है सत्य।

मन की गहराइयों में, दबा हुआ सा है सत्य,
जानने की अभिलाषा पर, छलका हुआ है सत्य।
खोज की यात्रा में, उजागर होता है सत्य,
आत्मज्ञान की ज्योति से, प्रकट होता है सत्य।

अनुभवों की परतों में, ढँका हुआ है सत्य,
जैसे हीरा कुँदन में, वैसे ही जड़ा हुआ है सत्य।
ज्ञान और विवेक की, बारीक रेखा है सत्य,
हृदय की अनंत गहराई में, बसा हुआ है सत्य।

जैसे धुंध में सूरज से, ढका हुआ है सत्य,
पर हर धुंध के पीछे, चमकता है यह सत्य।
वह हमारे भीतर है, हमारे स्वरूप में है,
जीवन का अर्थ समझेंगे, तब पाएंगे सत्य को।

– सुमन मीना (अदिति)
लेखिका एवं साहित्यकार

4 Likes · 54 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
रंजीत शुक्ल
रंजीत शुक्ल
Ranjeet Kumar Shukla
प्यार टूटे तो टूटने दो ,बस हौंसला नहीं टूटना चाहिए
प्यार टूटे तो टूटने दो ,बस हौंसला नहीं टूटना चाहिए
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
कितने चेहरे मुझे उदास दिखे
कितने चेहरे मुझे उदास दिखे
Shweta Soni
आगोश में रह कर भी पराया रहा
आगोश में रह कर भी पराया रहा
हरवंश हृदय
प्रेम की परिभाषा क्या है
प्रेम की परिभाषा क्या है
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी
।। जीवन प्रयोग मात्र ।।
।। जीवन प्रयोग मात्र ।।
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
बापू के संजय
बापू के संजय
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मीडिया पर व्यंग्य
मीडिया पर व्यंग्य
Mahender Singh
“ इन लोगों की बात सुनो”
“ इन लोगों की बात सुनो”
DrLakshman Jha Parimal
शेरे-पंजाब
शेरे-पंजाब
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
जब जब भूलने का दिखावा किया,
जब जब भूलने का दिखावा किया,
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
*
*"माँ महागौरी"*
Shashi kala vyas
कितना प्यार
कितना प्यार
Swami Ganganiya
न दिया धोखा न किया कपट,
न दिया धोखा न किया कपट,
Satish Srijan
फ़लसफ़ा है जिंदगी का मुस्कुराते जाना।
फ़लसफ़ा है जिंदगी का मुस्कुराते जाना।
Manisha Manjari
तेरा-मेरा साथ, जीवनभर का ...
तेरा-मेरा साथ, जीवनभर का ...
Sunil Suman
माया का रोग (व्यंग्य)
माया का रोग (व्यंग्य)
नवीन जोशी 'नवल'
अपनी पहचान
अपनी पहचान
Dr fauzia Naseem shad
उम्र के इस पडाव
उम्र के इस पडाव
Bodhisatva kastooriya
मुहब्बत
मुहब्बत
अखिलेश 'अखिल'
#छोटी_सी_नज़्म
#छोटी_सी_नज़्म
*प्रणय प्रभात*
आदमियों की जीवन कहानी
आदमियों की जीवन कहानी
Rituraj shivem verma
किसने क्या खूबसूरत लिखा है
किसने क्या खूबसूरत लिखा है
शेखर सिंह
अभी नहीं पूछो मुझसे यह बात तुम
अभी नहीं पूछो मुझसे यह बात तुम
gurudeenverma198
माँ
माँ
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
सामाजिक कविता: बर्फ पिघलती है तो पिघल जाने दो,
सामाजिक कविता: बर्फ पिघलती है तो पिघल जाने दो,
Rajesh Kumar Arjun
लड़ाई
लड़ाई
Dr. Kishan tandon kranti
ये जो मुहब्बत लुका छिपी की नहीं निभेगी तुम्हारी मुझसे।
ये जो मुहब्बत लुका छिपी की नहीं निभेगी तुम्हारी मुझसे।
सत्य कुमार प्रेमी
*चुनावी कुंडलिया*
*चुनावी कुंडलिया*
Ravi Prakash
Loading...