Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Jul 2023 · 1 min read

सत्य उस तीखी औषधि के समान होता है जो तुरंत तो कष्ट कारी लगती

सत्य उस तीखी दवा के समान होता है जो तुरंत तो कष्ट कारी लगती है परंतु परिणाम बहुत अच्छे देकर जीवन में सफलता प्रदान करती है।

अतः सत्य को अपनाओ,
जीवन में हर जीत पाओ।।

ओम प्रकाश श्रीवास्तव ओम

Language: Hindi
1 Like · 476 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
छन-छन के आ रही है जो बर्गे-शजर से धूप
छन-छन के आ रही है जो बर्गे-शजर से धूप
Sarfaraz Ahmed Aasee
2675.*पूर्णिका*
2675.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सुरक्षित भविष्य
सुरक्षित भविष्य
Dr. Pradeep Kumar Sharma
हम ख़फ़ा हो
हम ख़फ़ा हो
Dr fauzia Naseem shad
मेरे जज़्बात को चिराग कहने लगे
मेरे जज़्बात को चिराग कहने लगे
सिद्धार्थ गोरखपुरी
"मिर्च"
Dr. Kishan tandon kranti
वसंत पंचमी
वसंत पंचमी
Bodhisatva kastooriya
कटु दोहे
कटु दोहे
Suryakant Dwivedi
जितने चंचल है कान्हा
जितने चंचल है कान्हा
Harminder Kaur
पैर धरा पर हो, मगर नजर आसमां पर भी रखना।
पैर धरा पर हो, मगर नजर आसमां पर भी रखना।
Seema gupta,Alwar
मेरा प्रदेश
मेरा प्रदेश
इंजी. संजय श्रीवास्तव
किसकी किसकी कैसी फितरत
किसकी किसकी कैसी फितरत
Mukesh Kumar Sonkar
लंबा सफ़र
लंबा सफ़र
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
*जूते चोरी होने का दुख (हास्य व्यंग्य)*
*जूते चोरी होने का दुख (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
मेरी बच्ची - दीपक नीलपदम्
मेरी बच्ची - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
स्त्रीलिंग...एक ख़ूबसूरत एहसास
स्त्रीलिंग...एक ख़ूबसूरत एहसास
Mamta Singh Devaa
"" *सुनीलानंद* ""
सुनीलानंद महंत
मार मुदई के रे
मार मुदई के रे
जय लगन कुमार हैप्पी
हे परम पिता !
हे परम पिता !
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
आविष्कार एक स्वर्णिम अवसर की तलाश है।
आविष्कार एक स्वर्णिम अवसर की तलाश है।
Rj Anand Prajapati
दिल से दिल गर नहीं मिलाया होली में।
दिल से दिल गर नहीं मिलाया होली में।
सत्य कुमार प्रेमी
संविधान से, ये देश चलता,
संविधान से, ये देश चलता,
SPK Sachin Lodhi
बरस रहे है हम ख्वाबो की बरसात मे
बरस रहे है हम ख्वाबो की बरसात मे
देवराज यादव
"रात यूं नहीं बड़ी है"
ज़ैद बलियावी
उफ्फ्फ
उफ्फ्फ
Atul "Krishn"
मेरे राम
मेरे राम
Ajay Mishra
चंद अशआर
चंद अशआर
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
एक उम्र
एक उम्र
Rajeev Dutta
*अम्मा*
*अम्मा*
Ashokatv
बेचारा प्रताड़ित पुरुष
बेचारा प्रताड़ित पुरुष
Manju Singh
Loading...