Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 May 2024 · 1 min read

* सड़ जी नेता हुए *

बंद पीटारो में ढूँढा जब वर्षों की यादों का खज़ाना, हर यादों पर भारी निकली सड़जी का नेता बन जाना।

मजदुर सरीखे श्याम सलोने अद्भूत वेषभूषा धारी, नख से शीख तक साफ़श्वेत आम आदमीकारोबारी।

सिर पर चारों ओर लपेटे पट्टी वाला मफलर उसके ऊपर ताज़ सरीखे पहने आप की टोपी,

जामा आधे बाजू की और पाँव का चप्पल क्या कहना?

बिना फ्रेम का चश्मा उस पर शेवरॉन मूंछें,आम प्रभाव पूरा करती।

न चाल में न ढाल में न बोली में न बानी में दिखती झलक मुख्यमंत्री की,

सड़ जी कह अलंकृत करते नौकर को भी बाहर में।

छोटा घर, छोटी गाड़ी नहीं लेंगे महल-अटारी लूट लिया दिल्ली को कह कर हूँ मैं केवल तेरा कर्मचारी।

टोका जिसने भी हिम्मत कर अंदर वाली शान पर,

फेंक दिया मक्खी की भांति उनको बागी कह कर ।

राज़दार जब जेल पहुंच गये टूटा तिलिस्म सादे मुखड़े का,

बेनकाब हुए चेहरे पर दाग़ नहीं अनगिनत गड्ढ़े दिखे।

जब तक जिया सम्मान से जिया अब परलोक सिधार कर देवी पूछ रही है कण-कण से क्यों नहीं बनी हथकड़ी हमारी? क्या फँस गये सत्ता की लालच में ?अब पछताये रोये दिल्ली, मुक्ति भ्रष्टाचार से नहीं मिली, मथ्थे मढ़ गया कारोबारी।

Language: Hindi
37 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Mukta Rashmi
View all
You may also like:
कजरी (वर्षा-गीत)
कजरी (वर्षा-गीत)
Shekhar Chandra Mitra
प्रयास सदैव उचित और पूर्ण हो,
प्रयास सदैव उचित और पूर्ण हो,
Buddha Prakash
मैं बूढ़ा नहीं
मैं बूढ़ा नहीं
Dr. Rajeev Jain
रंग हरा सावन का
रंग हरा सावन का
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
जय महादेव
जय महादेव
Shaily
पहली नजर का जादू दिल पे आज भी है
पहली नजर का जादू दिल पे आज भी है
VINOD CHAUHAN
आंख पर पट्टी बांधे ,अंधे न्याय तौल रहे हैं ।
आंख पर पट्टी बांधे ,अंधे न्याय तौल रहे हैं ।
Slok maurya "umang"
जिंदगी और रेलगाड़ी
जिंदगी और रेलगाड़ी
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
एक छोटा सा दर्द भी व्यक्ति के जीवन को रद्द कर सकता है एक साध
एक छोटा सा दर्द भी व्यक्ति के जीवन को रद्द कर सकता है एक साध
Rj Anand Prajapati
आप और हम जीवन के सच
आप और हम जीवन के सच
Neeraj Agarwal
आदत से मजबूर
आदत से मजबूर
Surinder blackpen
यूँ तो हम अपने दुश्मनों का भी सम्मान करते हैं
यूँ तो हम अपने दुश्मनों का भी सम्मान करते हैं
ruby kumari
*फागुन का बस नाम है, असली चैत महान (कुंडलिया)*
*फागुन का बस नाम है, असली चैत महान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
एक मैं हूँ, जो प्रेम-वियोग में टूट चुका हूँ 💔
एक मैं हूँ, जो प्रेम-वियोग में टूट चुका हूँ 💔
The_dk_poetry
पत्र
पत्र
लक्ष्मी सिंह
जीवन में ठहरे हर पतझड़ का बस अंत हो
जीवन में ठहरे हर पतझड़ का बस अंत हो
Dr Tabassum Jahan
मेरी कलम से…
मेरी कलम से…
Anand Kumar
प्यार के मायने
प्यार के मायने
SHAMA PARVEEN
राम का न्याय
राम का न्याय
Shashi Mahajan
नौजवान सुभाष
नौजवान सुभाष
Aman Kumar Holy
क्या मिटायेंगे भला हमको वो मिटाने वाले .
क्या मिटायेंगे भला हमको वो मिटाने वाले .
Shyamsingh Lodhi Rajput (Tejpuriya)
इस नदी की जवानी गिरवी है
इस नदी की जवानी गिरवी है
Sandeep Thakur
अरे योगी तूने क्या किया ?
अरे योगी तूने क्या किया ?
Mukta Rashmi
अयोग्य व्यक्ति द्वारा शासन
अयोग्य व्यक्ति द्वारा शासन
Paras Nath Jha
इतिहास
इतिहास
Dr.Priya Soni Khare
मोह माया ये ज़िंदगी सब फ़ँस गए इसके जाल में !
मोह माया ये ज़िंदगी सब फ़ँस गए इसके जाल में !
Neelam Chaudhary
"मन की संवेदनाएं: जीवन यात्रा का परिदृश्य"
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
चक्करवर्ती तूफ़ान को लेकर
चक्करवर्ती तूफ़ान को लेकर
*प्रणय प्रभात*
जीवन में ख़ुशी
जीवन में ख़ुशी
Dr fauzia Naseem shad
बुंदेली दोहा-गर्राट
बुंदेली दोहा-गर्राट
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
Loading...