Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Aug 2021 · 1 min read

संगठन में शक्ति

संगठन में शक्ति
**************
एक कहावत सबको पता है
संघे शक्ति सर्वदा।
फिर भी हम कहाँ समझते हैं
आपस में ही असंगठित होकर
अपना ही दिमाग चला रहे हैं,
परिवार, समाज, राष्ट्र हित को
दरकिनार कर
बड़े बुद्धिमान बन रहे हैं।
संगठन की शक्ति को
जानबूझकर नजरअंदाज कर रहे हैं,
यह कैसी विडंबना है कि
एक होने के बजाय
बँटते जा रहे हैं।
खुद तो मिट ही रहे है
परिवार, समाज, राष्ट्र को भी
बरबाद करने पर तुले हैं,
फिर भी घमंड में कालर
ऊँचा किए जा रहे हैं
अँधे बन अपने ही पैरों पर
कुल्हाड़ी चला रहे हैं,
खुद को बड़े तीसमार खाँ
समझ रहे हैं।
◆ सुधीर श्रीवास्तव
गोण्डा, उ.प्र.
8115285921
©मौलिक, स्वरचित
22.08.2021

Language: Hindi
2 Likes · 1208 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
2802. *पूर्णिका*
2802. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
This generation was full of gorgeous smiles and sorrowful ey
This generation was full of gorgeous smiles and sorrowful ey
पूर्वार्थ
जो बीत गयी सो बीत गई जीवन मे एक सितारा था
जो बीत गयी सो बीत गई जीवन मे एक सितारा था
Rituraj shivem verma
तेरे जन्म दिवस पर सजनी
तेरे जन्म दिवस पर सजनी
Satish Srijan
लंबा सफ़र
लंबा सफ़र
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
कर मुसाफिर सफर तू अपने जिंदगी  का,
कर मुसाफिर सफर तू अपने जिंदगी का,
Yogendra Chaturwedi
चलो...
चलो...
Srishty Bansal
वंदनीय हैं मात-पिता, बतलाते श्री गणेश जी (भक्ति गीतिका)
वंदनीय हैं मात-पिता, बतलाते श्री गणेश जी (भक्ति गीतिका)
Ravi Prakash
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
■ ये हैं ठेकेदार
■ ये हैं ठेकेदार
*प्रणय प्रभात*
"ख्वाब"
Dr. Kishan tandon kranti
" अधरों पर मधु बोल "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
मां चंद्रघंटा
मां चंद्रघंटा
Mukesh Kumar Sonkar
भगवान की तलाश में इंसान
भगवान की तलाश में इंसान
Ram Krishan Rastogi
वक्त अब कलुआ के घर का ठौर है
वक्त अब कलुआ के घर का ठौर है
Pt. Brajesh Kumar Nayak
#justareminderdrarunkumarshastri
#justareminderdrarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
अमिट सत्य
अमिट सत्य
विजय कुमार अग्रवाल
गंगा ....
गंगा ....
sushil sarna
मुझे बिखरने मत देना
मुझे बिखरने मत देना
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
तेरा-मेरा साथ, जीवनभर का ...
तेरा-मेरा साथ, जीवनभर का ...
Sunil Suman
*** चंद्रयान-३ : चांद की सतह पर....! ***
*** चंद्रयान-३ : चांद की सतह पर....! ***
VEDANTA PATEL
आसमां में चांद प्यारा देखिए।
आसमां में चांद प्यारा देखिए।
सत्य कुमार प्रेमी
मायके से लौटा मन
मायके से लौटा मन
Shweta Soni
*गुड़िया प्यारी राज दुलारी*
*गुड़िया प्यारी राज दुलारी*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
जीवन
जीवन
Neeraj Agarwal
Feelings of love
Feelings of love
Bidyadhar Mantry
कभी-कभी ऐसा लगता है
कभी-कभी ऐसा लगता है
Suryakant Dwivedi
बेफिक्र तेरे पहलू पे उतर आया हूं मैं, अब तेरी मर्जी....
बेफिक्र तेरे पहलू पे उतर आया हूं मैं, अब तेरी मर्जी....
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
मैं मांझी सा जिद्दी हूं
मैं मांझी सा जिद्दी हूं
AMRESH KUMAR VERMA
पन्द्रह अगस्त का दिन कहता आजादी अभी अधूरी है ।।
पन्द्रह अगस्त का दिन कहता आजादी अभी अधूरी है ।।
Kailash singh
Loading...