Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Jun 2023 · 1 min read

शिष्टाचार एक जीवन का दर्पण । लेखक राठौड़ श्रावण सोनापुर उटनुर आदिलाबाद

शिष्टाचार तो सबसे प्यार
शिष्टाचार से विनम्र व्यवहार ।

गुण उनके तिन प्रकार
नहीं तो जीवन पुरा अंदकार ।

ममता करुणा रखो अपार
पर होरहा है अत्याचार ।

छोटे बडे पर करो विचार
समाज जिवन का हुआ उधार ।

माता पिता बड़ों का आदर
शिष्टा आचरण ही शिष्टाचार ।

दुसरें के प्रति अच्छा व्ववहार
मिलता उसे जीवन में सत्कार।

सफलता की कुंजी शिष्टाचार
विजय प्राप्त का है ये आधार।

समता ममता अच्छा सुधार
समाज में उनका जै जै कार ।

…….राठौड़ श्रावण हिंदी प्रध्यापक साशकिय कनिष्ठ माहाविध्यालय इंद्रवेल्लि आदिलाबाद तेलंगाना

Language: Hindi
2 Likes · 2 Comments · 385 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
प्राकृतिक सौंदर्य
प्राकृतिक सौंदर्य
Neeraj Agarwal
चंद्रयान 3 ‘आओ मिलकर जश्न मनाएं’
चंद्रयान 3 ‘आओ मिलकर जश्न मनाएं’
Author Dr. Neeru Mohan
गांव की सैर
गांव की सैर
जगदीश लववंशी
भाषाओं पे लड़ना छोड़ो, भाषाओं से जुड़ना सीखो, अपनों से मुँह ना
भाषाओं पे लड़ना छोड़ो, भाषाओं से जुड़ना सीखो, अपनों से मुँह ना
DrLakshman Jha Parimal
জীবন চলচ্চিত্রের একটি খালি রিল, যেখানে আমরা আমাদের ইচ্ছামত গ
জীবন চলচ্চিত্রের একটি খালি রিল, যেখানে আমরা আমাদের ইচ্ছামত গ
Sakhawat Jisan
किस बात का गुरुर हैं,जनाब
किस बात का गुरुर हैं,जनाब
शेखर सिंह
वक़्त है तू
वक़्त है तू
Dr fauzia Naseem shad
खुश होना नियति ने छीन लिया,,
खुश होना नियति ने छीन लिया,,
पूर्वार्थ
राम भजन
राम भजन
आर.एस. 'प्रीतम'
"तुम्हारी गली से होकर जब गुजरता हूं,
Aman Kumar Holy
"" *मन तो मन है* ""
सुनीलानंद महंत
काव्य में अलौकिकत्व
काव्य में अलौकिकत्व
कवि रमेशराज
पथ सहज नहीं रणधीर
पथ सहज नहीं रणधीर
Shravan singh
जो होता है सही  होता  है
जो होता है सही होता है
Anil Mishra Prahari
राम रहीम और कान्हा
राम रहीम और कान्हा
Dinesh Kumar Gangwar
जहाँ में किसी का सहारा न था
जहाँ में किसी का सहारा न था
Anis Shah
सच समझने में चूका तंत्र सारा
सच समझने में चूका तंत्र सारा
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
नव वर्ष हैप्पी वाला
नव वर्ष हैप्पी वाला
Satish Srijan
dr arun kumar shastri
dr arun kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
साक्षात्कार-पीयूष गोयल(दर्पण छवि लेखक).
साक्षात्कार-पीयूष गोयल(दर्पण छवि लेखक).
Piyush Goel
प्रेम के मायने
प्रेम के मायने
Awadhesh Singh
296क़.*पूर्णिका*
296क़.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
गाँव कुछ बीमार सा अब लग रहा है
गाँव कुछ बीमार सा अब लग रहा है
Pt. Brajesh Kumar Nayak
*कमाल की बातें*
*कमाल की बातें*
आकांक्षा राय
सफ़र जिंदगी का (कविता)
सफ़र जिंदगी का (कविता)
Indu Singh
■ सेवाएं ऑनलाइन भी उपलब्ध।
■ सेवाएं ऑनलाइन भी उपलब्ध।
*प्रणय प्रभात*
मौन मंजिल मिली औ सफ़र मौन है ।
मौन मंजिल मिली औ सफ़र मौन है ।
Arvind trivedi
*दिन गए चिट्ठियों के जमाने गए (हिंदी गजल)*
*दिन गए चिट्ठियों के जमाने गए (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
मातृशक्ति को नमन
मातृशक्ति को नमन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"प्रार्थना"
Dr. Kishan tandon kranti
Loading...