Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Aug 2022 · 1 min read

शाम से ही तेरी याद सताने लगती है

शाम से ही तेरी याद सताने लगती है।
पता नही क्या चीज तड़फाने लगती है।।

होगा मिलन हमारा जब रात हो जायेगी।
बाते करते करते सारी रात कट जायेगी।।

होगी सुबह जब सूर्य की किरण जगावेगी।
मस्ती भरी आंखों में तेरी यादें रह जायेगी।।

चाहती हूं बस इस तरह सारी उम्र कट जाए।
मेरी जिंदगी तेरी बाहों में ही सिमट जाए।।

उठे भी मेरा जनाजा बस तेरे ही घर से।
सुहागन बनकर जाऊं बस तेरे ही घर से।।

मांगती हूं दुआ लिखे हो तुम मेरे कर्म में।
बार बार मिलन हो तुमसे मेरा हर जन्म में।।

लिखता है रस्तोगी,उसको ये सब मिल जाए।
मेरा संदेशा उसके पास अवश्य पहुंच जाए।।

आर के रस्तोगी गुरुग्राम

Language: Hindi
3 Likes · 5 Comments · 286 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ram Krishan Rastogi
View all
You may also like:
दो कदम का फासला ही सही
दो कदम का फासला ही सही
goutam shaw
तबीयत मचल गई
तबीयत मचल गई
Surinder blackpen
रामलला
रामलला
Saraswati Bajpai
सैनिक के संग पूत भी हूँ !
सैनिक के संग पूत भी हूँ !
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
अच्छे बच्चे
अच्छे बच्चे
Dr. Pradeep Kumar Sharma
इस जीवन के मधुर क्षणों का
इस जीवन के मधुर क्षणों का
Shweta Soni
बड़ी मुश्किल है ये ज़िंदगी
बड़ी मुश्किल है ये ज़िंदगी
Vandna Thakur
मेरा दिन भी आएगा !
मेरा दिन भी आएगा !
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
ज्ञान~
ज्ञान~
दिनेश एल० "जैहिंद"
ज़िन्दगी और प्रेम की,
ज़िन्दगी और प्रेम की,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हकीकत जानूंगा तो सब पराए हो जाएंगे
हकीकत जानूंगा तो सब पराए हो जाएंगे
Ranjeet kumar patre
काश यह मन एक अबाबील होता
काश यह मन एक अबाबील होता
Atul "Krishn"
सच्ची दोस्ती -
सच्ची दोस्ती -
Raju Gajbhiye
■ आज की बात...!
■ आज की बात...!
*Author प्रणय प्रभात*
विजेता सूची- “सत्य की खोज” – काव्य प्रतियोगिता
विजेता सूची- “सत्य की खोज” – काव्य प्रतियोगिता
Sahityapedia
सेंगोल और संसद
सेंगोल और संसद
Damini Narayan Singh
"चंदा मामा, चंदा मामा"
राकेश चौरसिया
तारों जैसी आँखें ,
तारों जैसी आँखें ,
SURYA PRAKASH SHARMA
कुछ बातें मन में रहने दो।
कुछ बातें मन में रहने दो।
surenderpal vaidya
"चलना"
Dr. Kishan tandon kranti
💐अज्ञात के प्रति-84💐
💐अज्ञात के प्रति-84💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अपने आमाल पे
अपने आमाल पे
Dr fauzia Naseem shad
इश्क की पहली शर्त
इश्क की पहली शर्त
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
योग दिवस पर
योग दिवस पर
डॉ.सीमा अग्रवाल
*जिंदगी के युद्ध में, मत हार जाना चाहिए (गीतिका)*
*जिंदगी के युद्ध में, मत हार जाना चाहिए (गीतिका)*
Ravi Prakash
जीवन चक्र में_ पढ़ाव कई आते है।
जीवन चक्र में_ पढ़ाव कई आते है।
Rajesh vyas
परखा बहुत गया मुझको
परखा बहुत गया मुझको
शेखर सिंह
23/03.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
23/03.छत्तीसगढ़ी पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
फाल्गुन वियोगिनी व्यथा
फाल्गुन वियोगिनी व्यथा
Er.Navaneet R Shandily
कोई मिले जो  गले लगा ले
कोई मिले जो गले लगा ले
दुष्यन्त 'बाबा'
Loading...