Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Aug 2016 · 1 min read

वो दर ओ बाम क्यूँ नहीं आता,,

इक दिया आम क्यूँ नहीं आता,
वो दर ओ बाम क्यूँ नहीं आता,,

एक ही शख़्स क्यूँ ज़बाँ पर है,
दूसरा नाम क्यूँ नहीं आता,,

इश्क़ करना बस इश्क़ करना ही,
दूसरा काम क्यूँ नहीं आता,,

जाने क्यूँ कर के दिल धड़कता है,
इसको आराम क्यूँ नहीं आता,,

चाँद के शौक़ में कभी छत पर,
वो खुले आम क्यूँ नहीं आता,,

तुम मुख़ातिब तो मुझ से होते हो,
ख़त मेरे नाम क्यूँ नहीं आता,,

जब मुहब्बत नहीं अदावत है,
तो सरे आम क्यूँ नहीं आता,,

सब्र का ज़हर ही पियेंगे क्या,
सामने जाम क्यूँ नहीं आता,,

– नासिर राव

1 Comment · 228 Views
You may also like:
बताओ तो जाने
Ram Krishan Rastogi
"शिवाजी गुरु समर्थ रामदास स्वामी"✨
Pravesh Shinde
समझदारी - कहानी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
एक प्रश्न
Aditya Prakash
शब्दों से परे
Mahendra Rai
वादा करके चले गए
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
धर्मराज
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
* मोरे कान्हा *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तितली
लक्ष्मी सिंह
✍️दफ़न हो गया✍️
'अशांत' शेखर
एक उलझा सवाल।
Taj Mohammad
उफ़ यह कपटी बंदर
ओनिका सेतिया 'अनु '
ध्यान
विशाल शुक्ल
बरसात
Ashwani Kumar Jaiswal
दिल को खुशी
shabina. Naaz
बेटी का पत्र माँ के नाम (भाग २)
Anamika Singh
'वर्षा ऋतु'
Godambari Negi
कल कह सकता है वह ऐसा
gurudeenverma198
दिवाली शुभ होवे
Vindhya Prakash Mishra
भूल जाओ इस चमन में...
मनोज कर्ण
इश्क़ रूह से मज़ाक लगता है
Dr fauzia Naseem shad
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
*समय है एक अनुशासन, जिसे सूरज निभाता है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
★HAPPY FATHER'S DAY ★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
चोट मैं भी खायें हैं , तेरे इश्क में काफ़िर
Manoj Kumar
जय-जय भारत!
अनिल मिश्र
आओ प्यार कर लें
Shekhar Chandra Mitra
पहली भारतीय महिला जासूस सरस्वती राजमणि जी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
प्रवाह में रहो
Rashmi Sanjay
उम्मीद
Sushil chauhan
Loading...