Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Mar 18, 2019 · 1 min read

वह नेता है ।

घपले घोटाले में,
अपने हिस्से ले लेता है
वह नेता है।
कभी पेंशन , आवास मे भी
आंशिक घूस लेता है
वह नेता है ।
कभी राशन मे घपलेबाजी
पल पल दलाली।
पेट भर नहीं पाता तो
पशु चारा खा लेता है ।
वह नेता है ।
विन्ध्य कहे न कह सके
मन मर्जी की हद करता है ।
मन भर जेब भरता है ।
सरकारी धन से
अपनी मूर्ति बना लेता है ।
वह नेता है ।
पद से हटता है तो।
बिल्ली सा उछल कूद करता,
बर्बादी मे आगे आकर
टोटी तक चुरा लेता है ।
वह नेता है ।
पिता को धकियाता,
गुंडे पालकर धमकाता।
जनता के धन से अपनी बेरोजगारी मिटा लेता है ।
वह नेता है ।
टू जी थ्री जी कितने गिनाए जी
रिश्ते नाते दारी तक
दीदी और जीजाजी तक
सब को सुखमय कर लेता है ।
वह नेता है ।
हाथ जोडता,
पांव पकडता
अवसर देखकर
पैर भी धो देता है ।
वह नेता है ।
करस्तानी बडी निराली,
कम होते हैं इंसानी।
रैली के लिए जुगत लगाए
पैसे तक दे देता है ।
वह नेता है ।
नेता के गुण का वर्णन न कर सका कोय।
सारे अवगुण मिले तो, नेता के गुण होय।।
विन्ध्य प्रकाश मिश्र विप्र

1 Like · 157 Views
You may also like:
कितनी सहमी सी
Dr fauzia Naseem shad
एक मुर्गी की दर्द भरी दास्तां
ओनिका सेतिया 'अनु '
जेब में सरकार लिए फिरते हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
ग़ज़ल- इशारे देखो
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
शाश्वत सत्य की कलम से।
Manisha Manjari
मेरी ईद करा दो।
Taj Mohammad
✍️धुप में है साया✍️
"अशांत" शेखर
समझना तुझे है अगर जिंदगी को।
सत्य कुमार प्रेमी
कुछ ख़ास करते है।
Taj Mohammad
कहते हैं न....
Varun Singh Gautam
#क्या_पता_मैं_शून्य_हो_जाऊं
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
पिता
कुमार अविनाश केसर
तेरा चलना ओए ओए ओए
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
✍️खून-ए-इंक़िलाब नहीं✍️
"अशांत" शेखर
घर
पंकज कुमार "कर्ण"
कालजयी साहित्यकार जयशंकर प्रसाद जी (133 वां जन्मदिन)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हमने प्यार को छोड़ दिया है
VINOD KUMAR CHAUHAN
Two Different Genders, Two Different Bodies And A Single Soul
Manisha Manjari
💐ये मेरी आशिकी💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
*कथावाचक श्री राजेंद्र प्रसाद पांडेय 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
धरती की अंगड़ाई
श्री रमण 'श्रीपद्'
रिमोट :: वोट
DESH RAJ
लेके काँवड़ दौड़ने
Jatashankar Prajapati
" कोरोना "
Dr Meenu Poonia
बना कुंच से कोंच,रेल-पथ विश्रामालय।।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
Love Heart
Buddha Prakash
कोशिश
Anamika Singh
महसूस करो
Dr fauzia Naseem shad
एक प्रश्न
Aditya Prakash
खंडहर में अब खोज रहे ।
Buddha Prakash
Loading...