Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Feb 2024 · 1 min read

*वरद हस्त सिर पर धरो*..सरस्वती वंदना

हे वीणावादिनी! वाणी में मधुरता भरो।
हे बुद्धिदायिनी! दूर मानसिक जड़ता करो।
अज्ञान रूपी तम का माँ होता रहे शमन,
हे तमहारिणी! रौशन अम्न का रास्ता करो।

हे कमलधारिणी! जीवन सुगन्धित करो।
हे मुक्तिदायनी! ख़ुद से अनुबन्धित करो।
लेखन रूपी कमल मैं खिलाती रहूँ सदा,
हे हंसवाहिनी! शब्द-सरिता यूँ स्पन्दित करो।

हे वरदायिनी! वरद हस्त सिर पर धरो।
हे शुभकारिणी! ज्ञान-वारिधि से भरो।
मुझ अकिंचन का मन न रहे कलुषित
हे कुमुदिनी! अग्रसर मुझे सुपथ पर करो।

6 Likes · 5 Comments · 1405 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Poonam Matia
View all
You may also like:
गरीब हैं लापरवाह नहीं
गरीब हैं लापरवाह नहीं
Dr. Pradeep Kumar Sharma
तुम्हारी है जुस्तजू
तुम्हारी है जुस्तजू
Surinder blackpen
सच हमारे जीवन के नक्षत्र होते हैं।
सच हमारे जीवन के नक्षत्र होते हैं।
Neeraj Agarwal
उठे ली सात बजे अईठे ली ढेर
उठे ली सात बजे अईठे ली ढेर
नूरफातिमा खातून नूरी
- एक दिन उनको मेरा प्यार जरूर याद आएगा -
- एक दिन उनको मेरा प्यार जरूर याद आएगा -
bharat gehlot
*दादा जी डगमग चलते हैं (बाल कविता)*
*दादा जी डगमग चलते हैं (बाल कविता)*
Ravi Prakash
वक़्त की फ़ितरत को
वक़्त की फ़ितरत को
Dr fauzia Naseem shad
राखी (कुण्डलिया)
राखी (कुण्डलिया)
नाथ सोनांचली
चांदनी की झील में प्यार का इज़हार हूँ ।
चांदनी की झील में प्यार का इज़हार हूँ ।
sushil sarna
उसके नाम के 4 हर्फ़ मेरे नाम में भी आती है
उसके नाम के 4 हर्फ़ मेरे नाम में भी आती है
Madhuyanka Raj
देखिए आईपीएल एक वह बिजनेस है
देखिए आईपीएल एक वह बिजनेस है
शेखर सिंह
2409.पूर्णिका
2409.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
सुबुधि -ज्ञान हीर कर
सुबुधि -ज्ञान हीर कर
Pt. Brajesh Kumar Nayak
झील बनो
झील बनो
Dr. Kishan tandon kranti
पधारो मेरे प्रदेश तुम, मेरे राजस्थान में
पधारो मेरे प्रदेश तुम, मेरे राजस्थान में
gurudeenverma198
मैं सुर हूॅ॑ किसी गीत का पर साज तुम्ही हो
मैं सुर हूॅ॑ किसी गीत का पर साज तुम्ही हो
VINOD CHAUHAN
खत उसनें खोला भी नहीं
खत उसनें खोला भी नहीं
Sonu sugandh
आपसे होगा नहीं , मुझसे छोड़ा नहीं जाएगा
आपसे होगा नहीं , मुझसे छोड़ा नहीं जाएगा
Keshav kishor Kumar
"बचपन"
Tanveer Chouhan
संविधान ग्रंथ नहीं मां भारती की एक आत्मा🇮🇳
संविधान ग्रंथ नहीं मां भारती की एक आत्मा🇮🇳
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
There is nothing wrong with slowness. All around you in natu
There is nothing wrong with slowness. All around you in natu
पूर्वार्थ
भैतिक सुखों का आनन्द लीजिए,
भैतिक सुखों का आनन्द लीजिए,
Satish Srijan
*ईर्ष्या भरम *
*ईर्ष्या भरम *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
इश्क़ के नाम पर धोखा मिला करता है यहां।
इश्क़ के नाम पर धोखा मिला करता है यहां।
Phool gufran
Attraction
Attraction
Vedha Singh
तन्हाई में अपनी
तन्हाई में अपनी
हिमांशु Kulshrestha
विद्या देती है विनय, शुद्ध  सुघर व्यवहार ।
विद्या देती है विनय, शुद्ध सुघर व्यवहार ।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
अधूरी तमन्ना (कविता)
अधूरी तमन्ना (कविता)
Monika Yadav (Rachina)
*मायूस चेहरा*
*मायूस चेहरा*
Harminder Kaur
चक्करवर्ती तूफ़ान को लेकर
चक्करवर्ती तूफ़ान को लेकर
*प्रणय प्रभात*
Loading...