Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Nov 2019 · 1 min read

* लाडो *

लाडो

मात-पिता की दुनिया-दारी,
घर आंगन की है फुलवारी,
दादा-दादी ने आस तेरे तै,
उनका मान बढाइये लाडो ।
ना गलत कदम तूं ठाईये लाडो ।

सोच समझ के चलना होगा,
दीपक की तरह जलना होगा,
प्यार-व्यार के चक्कर में,
मतन्या ध्यान डिगाईये लाडो ।
ना गलत कदम तूं ठाईये लाडो ।

सब सुखी देखना चाहवै तनै,
दुःख दर्द में आगे पावै तनै,
बस एक ही अरदास तेरे तै,
उन तै दूर ना जाईये लाडो ।
ना गलत कदम तूं ठाईये लाडो ।

बलकार गोरखपुर और के कहणा,
वक्त के आगे सबनै डर के रहणा,
गर्व करे घर-गाम तेरे पे,
उस रस्ते बढ जाईये लाडो ।
ना गलत कदम तूं ठाईये लाडो ।

©® बलकार सिंह हरियाणवी

Language: Hindi
2 Likes · 1 Comment · 478 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
■ लिख कर रखिए। सच साबित होगा अगले कुछ महीनों में।
■ लिख कर रखिए। सच साबित होगा अगले कुछ महीनों में।
*प्रणय प्रभात*
जीवन चलती साइकिल, बने तभी बैलेंस
जीवन चलती साइकिल, बने तभी बैलेंस
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बलबीर
बलबीर
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
???????
???????
शेखर सिंह
Second Chance
Second Chance
Pooja Singh
शे’र/ MUSAFIR BAITHA
शे’र/ MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
जय बोलो मानवता की🙏
जय बोलो मानवता की🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
उफ़ ये कैसा असर दिल पे सरकार का
उफ़ ये कैसा असर दिल पे सरकार का
Jyoti Shrivastava(ज्योटी श्रीवास्तव)
माँ सरस्वती प्रार्थना
माँ सरस्वती प्रार्थना
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
"दरपन"
Dr. Kishan tandon kranti
भोर सुहानी हो गई, खिले जा रहे फूल।
भोर सुहानी हो गई, खिले जा रहे फूल।
surenderpal vaidya
मैं एक पल हूँ
मैं एक पल हूँ
Swami Ganganiya
संस्कारी लड़की
संस्कारी लड़की
Dr.Priya Soni Khare
नादान पक्षी
नादान पक्षी
Neeraj Agarwal
*संवेदना*
*संवेदना*
Dr Shweta sood
*अहंकार*
*अहंकार*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
23/113.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/113.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
माँ में दोस्त मिल जाती है बिना ढूंढे ही
माँ में दोस्त मिल जाती है बिना ढूंढे ही
ruby kumari
इश्क़ में
इश्क़ में
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
आंखों से अश्क बह चले
आंखों से अश्क बह चले
Shivkumar Bilagrami
डबूले वाली चाय
डबूले वाली चाय
Shyam Sundar Subramanian
नफ़रत सहना भी आसान हैं.....⁠♡
नफ़रत सहना भी आसान हैं.....⁠♡
ओसमणी साहू 'ओश'
दोहे -लालची
दोहे -लालची
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
आतंकवाद सारी हदें पार कर गया है
आतंकवाद सारी हदें पार कर गया है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"*पिता*"
Radhakishan R. Mundhra
‘ विरोधरस ‘---5. तेवरी में विरोधरस -- रमेशराज
‘ विरोधरस ‘---5. तेवरी में विरोधरस -- रमेशराज
कवि रमेशराज
दिल का दर्द💔🥺
दिल का दर्द💔🥺
$úDhÁ MãÚ₹Yá
धैर्य के साथ अगर मन में संतोष का भाव हो तो भीड़ में भी आपके
धैर्य के साथ अगर मन में संतोष का भाव हो तो भीड़ में भी आपके
Paras Nath Jha
हमारे पास हार मानने के सभी कारण थे, लेकिन फिर भी हमने एक-दूस
हमारे पास हार मानने के सभी कारण थे, लेकिन फिर भी हमने एक-दूस
पूर्वार्थ
जागरूक हो हर इंसान
जागरूक हो हर इंसान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
Loading...