Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Sep 2022 · 1 min read

राजू श्रीवास्तव – एक श्रृद्धांजली

वो हंसमुख चेहरा,
वो हंसी का पिटारा ,
खुशियाँ सबको लुटाता,
सबका वो प्यारा,
पल भर का उसका साथ,
सारे गम भुलाता ,
जीवन के हर क्षण में,
वो हंसी ढूंढ लाता ,
नियति ने के क्रूर हाथों ने,
हमारा वो खजाना लूट लिया ,
दुःख से संतप्त कर हम प्रेमियों को,
रोता बिलखता छोड़ दिया ,
तेरी वो मीठी यादों को हम,
जीवन भर न भूल पाएंगें ,
तेरी बातों को याद कर हम,
अपना गम भुलाएंगे ।

Language: Hindi
5 Likes · 2 Comments · 275 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Shyam Sundar Subramanian
View all
You may also like:
सब कुछ हमारा हमी को पता है
सब कुछ हमारा हमी को पता है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
*बुरा न मानो होली है 【बाल कविता 】*
*बुरा न मानो होली है 【बाल कविता 】*
Ravi Prakash
*** एक दौर....!!! ***
*** एक दौर....!!! ***
VEDANTA PATEL
जब कोई महिला किसी के सामने पूर्णतया नग्न हो जाए तो समझिए वह
जब कोई महिला किसी के सामने पूर्णतया नग्न हो जाए तो समझिए वह
Rj Anand Prajapati
मुर्दा समाज
मुर्दा समाज
Rekha Drolia
#नज़्म / ■ दिल का रिश्ता
#नज़्म / ■ दिल का रिश्ता
*Author प्रणय प्रभात*
लोग आते हैं दिल के अंदर मसीहा बनकर
लोग आते हैं दिल के अंदर मसीहा बनकर
कवि दीपक बवेजा
प्रेम में राग हो तो
प्रेम में राग हो तो
हिमांशु Kulshrestha
कैसे जीने की फिर दुआ निकले
कैसे जीने की फिर दुआ निकले
Dr fauzia Naseem shad
#justareminderdrarunkumarshastri
#justareminderdrarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तू मेरे सपनो का राजा तू मेरी दिल जान है
तू मेरे सपनो का राजा तू मेरी दिल जान है
कृष्णकांत गुर्जर
कतरनों सा बिखरा हुआ, तन यहां
कतरनों सा बिखरा हुआ, तन यहां
Pramila sultan
सूरज मेरी उम्मीद का फिर से उभर गया........
सूरज मेरी उम्मीद का फिर से उभर गया........
shabina. Naaz
एक मन
एक मन
Dr.Priya Soni Khare
राजस्थान
राजस्थान
Anil chobisa
क्यों तुम उदास होती हो...
क्यों तुम उदास होती हो...
Er. Sanjay Shrivastava
शिष्टाचार के दीवारों को जब लांघने की चेष्टा करते हैं ..तो दू
शिष्टाचार के दीवारों को जब लांघने की चेष्टा करते हैं ..तो दू
DrLakshman Jha Parimal
(2) ऐ ह्रदय ! तू गगन बन जा !
(2) ऐ ह्रदय ! तू गगन बन जा !
Kishore Nigam
बेटी उड़ान पर बाप ढलान पर👸👰🙋
बेटी उड़ान पर बाप ढलान पर👸👰🙋
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
-- मुंह पर टीका करना --
-- मुंह पर टीका करना --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
💐प्रेम कौतुक-182💐
💐प्रेम कौतुक-182💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हिन्दी पर विचार
हिन्दी पर विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
उसने कहा....!!
उसने कहा....!!
Kanchan Khanna
गीता जयंती
गीता जयंती
Satish Srijan
उदास आँखों से जिस का रस्ता मैं एक मुद्दत से तक रहा था
उदास आँखों से जिस का रस्ता मैं एक मुद्दत से तक रहा था
Aadarsh Dubey
The most awkward situation arises when you lie between such
The most awkward situation arises when you lie between such
नव लेखिका
"इतिहास"
Dr. Kishan tandon kranti
क्यों मैं इतना बदल गया
क्यों मैं इतना बदल गया
gurudeenverma198
तुम बिन जीना सीख लिया
तुम बिन जीना सीख लिया
Arti Bhadauria
वही है जो इक इश्क़ को दो जिस्म में करता है।
वही है जो इक इश्क़ को दो जिस्म में करता है।
Monika Verma
Loading...