Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#2 Trending Author
Apr 29, 2022 · 2 min read

युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता हैं [भाग९]

माना सब युद्ध खत्म हो जाते हैं ,
यह युद्ध भी खत्म हो जाएगा!
सब हाथ मिला लेंगे और
समझोता भी हो जाएगा !

गले लगाकर सब अपनी
तस्वीरे भी खिचवाँयेगें ,
चेहरे पर झूठी हँसी दिखाकर
सब मिलकर मुस्कुरायेगें!

पर क्या मन में जो चुभन रह गई,
क्या उसकी टीस कभी भी
जीवन भर मिट पाएगी !
जो दर्द छोड़ जाता है यह युद्ध ,
क्या कोई मरहम उसे कम कर पाएगा।

जो शहर उजड़ गया है,
क्या कभी पहले जैसा
वह बस पाएगा ,
क्या वह अपने दर्द को
कभी भूला पाएगा!

जिन लोगों ने अपनों को खोया है,
क्या कोई भी समझौता उनके ,
अपनों को लौटा पाएगा!
उसके मन में यह प्रश्न तो
हमेशा बना रहेगा!

यह समझौता पहले भी तो
हो सकता था!
इस युद्ध को रोका भी
तो जा सकता था,
मानवता की रक्षा के लिए
युद्ध के बिना भी तो हल
निकाला जा सकता था!

जिसकी दुनियाँ उजड़ गई
जिसका घर हो गया बरबाद
क्या कोई समझौता उसके
मन के दर्द को मिटा पाएगा!
वह कभी भी क्या इस समझौते
को दिल से अपना पाएगा!

बारूदी के इस ढेर में जो
इंसानियत मर गई ,
क्या कोई समझौता उस
इंसानियत को जिंदा कर पाएगा!

जो हैवान बन गए थे इस युद्ध में,
क्या इंसान बनकर वह,
खुद को माफ कर पाएगे!
क्या खून से सने हाथों से
वह कभी खा पाएगा!

होते है कई युद्ध,
खत्म भी हो जाते हैं,
पर अगले किसी युद्ध के लिए,
वह बीज छोड़ जाते है,

कहाँ कभी किसी युद्ध ने आजतक ,
किसी प्रश्न का उत्तर हल किया है !
उसने सिर्फ और सिर्फ प्रश्न
ही तो खड़ा किया है!

~अनामिका

3 Likes · 1 Comment · 90 Views
You may also like:
लॉकडाउन गीतिका
Ravi Prakash
✍️दरिया और समंदर✍️
"अशांत" शेखर
धागा भाव-स्वरूप, प्रीति शुभ रक्षाबंधन
Pt. Brajesh Kumar Nayak
पिता हिमालय है
जगदीश शर्मा सहज
सहारा
अरशद रसूल /Arshad Rasool
आज बहुत दिनों बाद
Krishan Singh
💐प्रेम की राह पर-53💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ये शिक्षामित्र है भाई कि इसमें जान थोड़ी है
आकाश महेशपुरी
देखा जो हुस्ने यार तो दिल भी मचल गया।
सत्य कुमार प्रेमी
दिल्लगी दिल से होती है।
Taj Mohammad
💝 जोश जवानी आये हाये 💝
DR ARUN KUMAR SHASTRI
'पिता' हैं 'परमेश्वरा........
Dr. Alpa H. Amin
काँच के रिश्ते ( दोहा संग्रह)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
【21】 *!* क्या आप चंदन हैं ? *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
*!* रचो नया इतिहास *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
कृष्ण पक्ष// गीत
Shiva Awasthi
माँ का प्यार
Anamika Singh
पिता और एफडी
सूर्यकांत द्विवेदी
जमीं से आसमान तक।
Taj Mohammad
*माहेश्वर तिवारी जी से संपर्क*
Ravi Prakash
माँ, हर बचपन का भगवान
Pt. Brajesh Kumar Nayak
सहरा से नदी मिल गई
अरशद रसूल /Arshad Rasool
रामपुर का इतिहास (पुस्तक समीक्षा)
Ravi Prakash
प्रेमानुभूति भाग-1 'प्रेम वियोगी ना जीवे, जीवे तो बौरा होई।’
पंकज 'प्रखर'
विदाई की घड़ी आ गई है,,,
Taj Mohammad
चराग़ों को जलाने से
Shivkumar Bilagrami
Forest Queen 'The Waterfall'
Buddha Prakash
बे-पर्दे का हुस्न।
Taj Mohammad
शायद...
Dr. Alpa H. Amin
हमारी मां हमारी शक्ति ( मातृ दिवस पर विशेष)
ओनिका सेतिया 'अनु '
Loading...