Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Jul 2023 · 1 min read

शिक्षा दान

यदि आप किसी को शिक्षा दान देते हैं तो उस व्यक्ति के लिए भविष्य में फिर कभी दान लेने की इच्छा से किसी के सामने हाथ पसारने की स्थति नहीं आती है।

Paras Nath Jha

109 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Paras Nath Jha
View all
You may also like:
मौन जीव के ज्ञान को, देता  अर्थ विशाल ।
मौन जीव के ज्ञान को, देता अर्थ विशाल ।
sushil sarna
" ब्रह्माण्ड की चेतना "
Dr Meenu Poonia
वट सावित्री अमावस्या
वट सावित्री अमावस्या
नवीन जोशी 'नवल'
विषम परिस्थियां
विषम परिस्थियां
Dr fauzia Naseem shad
खामोशी : काश इसे भी पढ़ लेता....!
खामोशी : काश इसे भी पढ़ लेता....!
VEDANTA PATEL
बचपन का मौसम
बचपन का मौसम
Meera Thakur
सफलता
सफलता
Vandna Thakur
सफलता
सफलता
Dr. Pradeep Kumar Sharma
ग़ज़ल (यूँ ज़िन्दगी में आपके आने का शुक्रिया)
ग़ज़ल (यूँ ज़िन्दगी में आपके आने का शुक्रिया)
डॉक्टर रागिनी
इस्लामिक देश को छोड़ दिया जाए तो लगभग सभी देश के विश्वविद्या
इस्लामिक देश को छोड़ दिया जाए तो लगभग सभी देश के विश्वविद्या
Rj Anand Prajapati
नवरात्रि - गीत
नवरात्रि - गीत
Neeraj Agarwal
तरक्की से तकलीफ
तरक्की से तकलीफ
शेखर सिंह
"सर्वाधिक खुशहाल देश"
Dr. Kishan tandon kranti
सहमी -सहमी सी है नज़र तो नहीं
सहमी -सहमी सी है नज़र तो नहीं
Shweta Soni
‘’ हमनें जो सरताज चुने है ,
‘’ हमनें जो सरताज चुने है ,
Vivek Mishra
गल्प इन किश एण्ड मिश
गल्प इन किश एण्ड मिश
प्रेमदास वसु सुरेखा
सच के साथ ही जीना सीखा सच के साथ ही मरना
सच के साथ ही जीना सीखा सच के साथ ही मरना
इंजी. संजय श्रीवास्तव
ये तुम्हें क्या हो गया है.......!!!!
ये तुम्हें क्या हो गया है.......!!!!
shabina. Naaz
गुमशुदा लोग
गुमशुदा लोग
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
अकेला
अकेला
Vansh Agarwal
एडमिन क हाथ मे हमर सांस क डोरि अटकल अछि  ...फेर सेंसर ..
एडमिन क हाथ मे हमर सांस क डोरि अटकल अछि ...फेर सेंसर .."पद्
DrLakshman Jha Parimal
#देसी_ग़ज़ल-
#देसी_ग़ज़ल-
*प्रणय प्रभात*
ज़माना इश्क़ की चादर संभारने आया ।
ज़माना इश्क़ की चादर संभारने आया ।
Phool gufran
यादों की तस्वीर
यादों की तस्वीर
Dipak Kumar "Girja"
*जन्मदिवस (बाल कविता)*
*जन्मदिवस (बाल कविता)*
Ravi Prakash
कर ले प्यार हरि से
कर ले प्यार हरि से
Satish Srijan
धूल से ही उत्सव हैं,
धूल से ही उत्सव हैं,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
शिकवा
शिकवा
अखिलेश 'अखिल'
मौसम बेईमान है – प्रेम रस
मौसम बेईमान है – प्रेम रस
Amit Pathak
इन काली रातों से इक गहरा ताल्लुक है मेरा,
इन काली रातों से इक गहरा ताल्लुक है मेरा,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
Loading...