Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Oct 2021 · 1 min read

मैया महर करेगी _ झोली मेरी तो भरेगी _घनाक्षरी

हलवा बनाया मैंने पूरी भी बनाई मैंने।
आई आई नवराती,मैया को मनाऊंगा।।
जलाऊं जलाऊं जोत जगराता मैं कराऊं।
पहाड़ों वाली मय्या जी के दर को जाऊंगा।।
मय्या महर करेगी झोली मेरी तो भरेगी।
भरी हुई लेकर झोली घर को आऊंगा।।
मैया के प्रसाद का स्वाद सारे जग को मैं।
घूम घूम कर के मैं सब को चखाऊंगा।।
राजेश व्यास अनुनय
?? इस पटल के एवं इस पटल को पढ़ने वाले समस्त पाठको सहित देशवासियों को शारदीय नवरात्रि पर्व की हार्दिक-हार्दिक शुभकामनाएं??

5 Likes · 6 Comments · 458 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
देखकर प्यार से मुस्कुराते रहो।
देखकर प्यार से मुस्कुराते रहो।
surenderpal vaidya
तू मेरी मैं तेरा, इश्क है बड़ा सुनहरा
तू मेरी मैं तेरा, इश्क है बड़ा सुनहरा
SUNIL kumar
वह फिर से छोड़ गया है मुझे.....जिसने किसी और      को छोड़कर
वह फिर से छोड़ गया है मुझे.....जिसने किसी और को छोड़कर
Rakesh Singh
ज़रूरी तो नहीं
ज़रूरी तो नहीं
Surinder blackpen
सुबह सुबह घरवालो कि बाते सुनकर लगता है ऐसे
सुबह सुबह घरवालो कि बाते सुनकर लगता है ऐसे
ruby kumari
नादान परिंदा
नादान परिंदा
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
#क़तआ (मुक्तक)
#क़तआ (मुक्तक)
*Author प्रणय प्रभात*
आज परी की वहन पल्लवी,पिंकू के घर आई है
आज परी की वहन पल्लवी,पिंकू के घर आई है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मुहब्बत मील का पत्थर नहीं जो छूट जायेगा।
मुहब्बत मील का पत्थर नहीं जो छूट जायेगा।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
मरने वालों का तो करते है सब ही खयाल
मरने वालों का तो करते है सब ही खयाल
shabina. Naaz
*छलने को तैयार है, छलिया यह संसार (कुंडलिया)*
*छलने को तैयार है, छलिया यह संसार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
परीक्षा है सर पर..!
परीक्षा है सर पर..!
भवेश
हर पल ये जिंदगी भी कोई ख़ास नहीं होती।
हर पल ये जिंदगी भी कोई ख़ास नहीं होती।
Phool gufran
अभी मेरी बरबादियों का दौर है
अभी मेरी बरबादियों का दौर है
पूर्वार्थ
“ ......... क्यूँ सताते हो ?”
“ ......... क्यूँ सताते हो ?”
DrLakshman Jha Parimal
अपना पीछा करते करते
अपना पीछा करते करते
Sangeeta Beniwal
" वतन "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
काव्य का राज़
काव्य का राज़
Mangilal 713
भरत नाम अधिकृत भारत !
भरत नाम अधिकृत भारत !
Neelam Sharma
हिंदुस्तान जिंदाबाद
हिंदुस्तान जिंदाबाद
Mahmood Alam
कहां बिखर जाती है
कहां बिखर जाती है
प्रकाश जुयाल 'मुकेश'
नशा नाश की गैल हैं ।।
नशा नाश की गैल हैं ।।
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
तस्वीरें
तस्वीरें
Kanchan Khanna
जितना आसान होता है
जितना आसान होता है
Harminder Kaur
" जल "
Dr. Kishan tandon kranti
Perfection, a word which cannot be described within the boun
Perfection, a word which cannot be described within the boun
Sukoon
🙏 गुरु चरणों की धूल 🙏
🙏 गुरु चरणों की धूल 🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
2539.पूर्णिका
2539.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
गाँव का दृश्य (गीत)
गाँव का दृश्य (गीत)
प्रीतम श्रावस्तवी
Loading...