Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-504💐

मैं तो अज़नबी न कहूँगा हमसफ़र कहूँगा उनको,
मैं अपना दिल ही और अपना सुकूँ कहूँगा उनको,
ये वक़्त तय करेगा मिरी वफ़ा रंगीन बहुत है,
दिलबर कहा और क्या क्या न कहूँगा उनको।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
44 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सुना है सकपने सच होते हैं-कविता
सुना है सकपने सच होते हैं-कविता
Shyam Pandey
#सन्देश...
#सन्देश...
*Author प्रणय प्रभात*
प्रेम
प्रेम
Dr.Priya Soni Khare
"दीपावाली का फटाका" कहानी लेखक: राधाकिसन मूंदड़ा, सूरत, गुजरात।
Radhakishan Mundhra
*वो बीता हुआ दौर नजर आता है*(जेल से)
*वो बीता हुआ दौर नजर आता है*(जेल से)
Dushyant Kumar
रंग भी रंगीन होते है तुम्हे छूकर
रंग भी रंगीन होते है तुम्हे छूकर
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
काली सी बदरिया छाई रे
काली सी बदरिया छाई रे
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
🌿 Brain thinking ⚘️
🌿 Brain thinking ⚘️
Ms.Ankit Halke jha
कुछ तो तुझ से मेरा राब्ता रहा होगा।
कुछ तो तुझ से मेरा राब्ता रहा होगा।
Ahtesham Ahmad
बन नेक बन्दे रब के
बन नेक बन्दे रब के
Satish Srijan
इश्क में  हम वफ़ा हैं बताए हो तुम।
इश्क में हम वफ़ा हैं बताए हो तुम।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
जो मौका रहनुमाई का मिला है
जो मौका रहनुमाई का मिला है
Anis Shah
गांव - माँ का मंदिर
गांव - माँ का मंदिर
नवीन जोशी 'नवल'
जो हर पल याद आएगा
जो हर पल याद आएगा
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
शक्कर की माटी
शक्कर की माटी
विजय कुमार नामदेव
*हनुमान जी*
*हनुमान जी*
Shashi kala vyas
पुस्तकें
पुस्तकें
नन्दलाल सुथार "राही"
वो एक विभा..
वो एक विभा..
Parvat Singh Rajput
मत पूछो मुझ पर  क्या , क्या  गुजर रही
मत पूछो मुझ पर क्या , क्या गुजर रही
श्याम सिंह बिष्ट
*अधूरा यज्ञ (नाटक)*
*अधूरा यज्ञ (नाटक)*
Ravi Prakash
नवसंवत्सर 2080 कि ज्योतिषीय विवेचना
नवसंवत्सर 2080 कि ज्योतिषीय विवेचना
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
उस दिन पर लानत भेजता  हूं,
उस दिन पर लानत भेजता हूं,
Vishal babu (vishu)
धूप की उम्मीद कुछ कम सी है,
धूप की उम्मीद कुछ कम सी है,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
कोन ल देबो वोट
कोन ल देबो वोट
Vijay kannauje
“ कौन सुनेगा ?”
“ कौन सुनेगा ?”
DrLakshman Jha Parimal
कोई इंसान अगर चेहरे से खूबसूरत है
कोई इंसान अगर चेहरे से खूबसूरत है
ruby kumari
असफल कवि
असफल कवि
Shekhar Chandra Mitra
‘‘शिक्षा में क्रान्ति’’
‘‘शिक्षा में क्रान्ति’’
Mr. Rajesh Lathwal Chirana
Ready for argument
Ready for argument
AJAY AMITABH SUMAN
आओ प्रिय बैठो पास...
आओ प्रिय बैठो पास...
डॉ.सीमा अग्रवाल
Loading...