Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Feb 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-267💐

मेरे ख़्वाबों के समुन्दर में डूब गए हो क्या?
सलीका ही मिलेगा सुकूँ बहुत एतिबार का।।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
60 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
मुझे     उम्मीद      है ए मेरे    दोस्त.   तुम.  कुछ कर जाओग
मुझे उम्मीद है ए मेरे दोस्त. तुम. कुछ कर जाओग
Anand.sharma
सबसे ज्यादा विश्वासघात
सबसे ज्यादा विश्वासघात
ruby kumari
"जब रास्ते पर पत्थरों के ढेर पड़े हो, तब सड़क नियमों का पालन
Dushyant Kumar
तबकी  बात  और है,
तबकी बात और है,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
वाणशैय्या पर भीष्मपितामह
वाणशैय्या पर भीष्मपितामह
मनोज कर्ण
अब मत करो ये Pyar और respect की बातें,
अब मत करो ये Pyar और respect की बातें,
Vishal babu (vishu)
दूर जाकर सिर्फ यादें दे गया।
दूर जाकर सिर्फ यादें दे गया।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
जज़्बा क़ायम जिंदगी में
जज़्बा क़ायम जिंदगी में
Satish Srijan
💐अज्ञात के प्रति-23💐
💐अज्ञात के प्रति-23💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
होके रहेगा इंक़लाब
होके रहेगा इंक़लाब
Shekhar Chandra Mitra
फीसों का शूल : उमेश शुक्ल के हाइकु
फीसों का शूल : उमेश शुक्ल के हाइकु
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
आज तो ठान लिया है
आज तो ठान लिया है
shabina. Naaz
"बचपने में जानता था
*Author प्रणय प्रभात*
बात-बात पर क्रोध से, बढ़ता मन-संताप।
बात-बात पर क्रोध से, बढ़ता मन-संताप।
डॉ.सीमा अग्रवाल
वचन दिवस
वचन दिवस
सत्य कुमार प्रेमी
*टैगोर काव्य गोष्ठी* भारत जिंदाबाद लोकार्पण
*टैगोर काव्य गोष्ठी* भारत जिंदाबाद लोकार्पण
Ravi Prakash
प्रेम पथ का एक रोड़ा✍️✍️
प्रेम पथ का एक रोड़ा✍️✍️
Tarun Prasad
हौसला
हौसला
Sanjay
लहरे बहुत है दिल मे दबा कर रखा है , काश ! जाना होता है, समुन
लहरे बहुत है दिल मे दबा कर रखा है , काश ! जाना होता है, समुन
Rohit yadav
....प्यार की सुवास....
....प्यार की सुवास....
Awadhesh Kumar Singh
ग़म का सागर
ग़म का सागर
Surinder blackpen
Kathputali bana sansar
Kathputali bana sansar
Sakshi Tripathi
यह तुम्हारी गलतफहमी है
यह तुम्हारी गलतफहमी है
gurudeenverma198
मंजिल नई नहीं है
मंजिल नई नहीं है
Pankaj Sen
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
I am a little boy
I am a little boy
Rajan Sharma
कशमें मेरे नाम की।
कशमें मेरे नाम की।
Diwakar Mahto
वक्त एक हकीकत
वक्त एक हकीकत
umesh mehra
दर्द पर लिखे अशआर
दर्द पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
शान्त हृदय से खींचिए,
शान्त हृदय से खींचिए,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Loading...