Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Feb 2023 · 1 min read

– मेरी मोहब्बत तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म –

– मेरी मोहब्बत तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म –

मेरी मोहब्बत तूझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म
मेरी तमन्ना मेरी आरजू तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म,
मेरी वफा मेरी जफा तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म,
मेरी दौलत मेरी शोहरत तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म,
मेरी जान मेरा जहान तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म ,
मेरी आन मेरी शान तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म,
मेरी मर्यादा मेरा मान मेरा सम्मान तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म,
मेरे दिल की धड़कन तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म,
मेरा हंसना मेरा रोना तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म,

क्योंकि भरत की मोहब्बत तुझसे ही शुरू तुझपे ही खत्म,

✍️✍️ भरत गहलोत
जालोर राजस्थान
संपर्क सूत्र -7742016184 –

Language: Hindi
59 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सुभाष चन्द्र बोस
सुभाष चन्द्र बोस
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
कभी लगते थे, तेरे आवाज़ बहुत अच्छे
कभी लगते थे, तेरे आवाज़ बहुत अच्छे
Anand Kumar
मुहब्बत का मौसम है, बारिश की छीटों से प्यार है,
मुहब्बत का मौसम है, बारिश की छीटों से प्यार है,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
कभी खुश भी हो जाते हैं हम
कभी खुश भी हो जाते हैं हम
Shweta Soni
माँ दे - दे वरदान ।
माँ दे - दे वरदान ।
Anil Mishra Prahari
*जब से मुकदमे में फॅंसा, कचहरी आने लगा (हिंदी गजल)*
*जब से मुकदमे में फॅंसा, कचहरी आने लगा (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
बात जुबां से अब कौन निकाले
बात जुबां से अब कौन निकाले
Sandeep Pande
काग़ज़ो के फूल में ख़ुशबू कहाँ से लाओगे
काग़ज़ो के फूल में ख़ुशबू कहाँ से लाओगे
अंसार एटवी
किस तरह से गुज़र पाएँगी
किस तरह से गुज़र पाएँगी
हिमांशु Kulshrestha
पर्यावरण प्रतिभाग
पर्यावरण प्रतिभाग
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
तौलकर बोलना औरों को
तौलकर बोलना औरों को
DrLakshman Jha Parimal
दलित साहित्य / ओमप्रकाश वाल्मीकि और प्रह्लाद चंद्र दास की कहानी के दलित नायकों का तुलनात्मक अध्ययन // आनंद प्रवीण//Anandpravin
दलित साहित्य / ओमप्रकाश वाल्मीकि और प्रह्लाद चंद्र दास की कहानी के दलित नायकों का तुलनात्मक अध्ययन // आनंद प्रवीण//Anandpravin
आनंद प्रवीण
अब हक़ीक़त
अब हक़ीक़त
Dr fauzia Naseem shad
प्यार है नही
प्यार है नही
SHAMA PARVEEN
आंख में बेबस आंसू
आंख में बेबस आंसू
Dr. Rajeev Jain
कदम भले थक जाएं,
कदम भले थक जाएं,
Sunil Maheshwari
कोहली किंग
कोहली किंग
पूर्वार्थ
गुनाहों के देवता तो हो सकते हैं
गुनाहों के देवता तो हो सकते हैं
Dheeru bhai berang
कहीं खूबियां में भी खामियां निकाली जाती है, वहीं कहीं  कमियो
कहीं खूबियां में भी खामियां निकाली जाती है, वहीं कहीं कमियो
Ragini Kumari
महामानव पंडित दीनदयाल उपाध्याय
महामानव पंडित दीनदयाल उपाध्याय
Indu Singh
*कर्म बंधन से मुक्ति बोध*
*कर्म बंधन से मुक्ति बोध*
Shashi kala vyas
*फितरत*
*फितरत*
Dushyant Kumar
*समझौता*
*समझौता*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
चलो एक बार फिर से ख़ुशी के गीत गाएं
चलो एक बार फिर से ख़ुशी के गीत गाएं
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
रमेशराज की ‘ गोदान ‘ के पात्रों विषयक मुक्तछंद कविताएँ
रमेशराज की ‘ गोदान ‘ के पात्रों विषयक मुक्तछंद कविताएँ
कवि रमेशराज
संवेदना का सौंदर्य छटा 🙏
संवेदना का सौंदर्य छटा 🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
गणतंत्र का जश्न
गणतंत्र का जश्न
Kanchan Khanna
कुण्डलिया छंद #हनुमानजी
कुण्डलिया छंद #हनुमानजी
शालिनी राय 'डिम्पल'✍️
तूं कैसे नज़र अंदाज़ कर देती हों दिखा कर जाना
तूं कैसे नज़र अंदाज़ कर देती हों दिखा कर जाना
Keshav kishor Kumar
"तुम मेरी ही मधुबाला....."
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
Loading...