Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Nov 2023 · 2 min read

” मेरा राज मेरा भगवान है “

” मेरा राज मेरा भगवान है ”
जन्म देकर इस धरा पर लेकर आते हैं हमें
मां बाप का एहसान भुलाए नहीं भूला जाता
वेद शास्त्रों में बताया गया है इनको भगवान
युगों युगों से ही इनका गुणगान किया जाता,
जहां जन्में वहीं सारी उम्र बिताते हैं लड़के तो
जीवन से जुड़ी हर चीज हमेशा ही पास रहती
लड़के का तो पूरा जन्म मां बाप की ही देन है
लड़की की जिंदगी तो दो हिस्सों में बंटी होती,
ताउम्र जीते है लड़के अपनेपन की परछाई में
जब मरते हैं तो जी शरीर छोड़ दूसरे में जाता
ऐसे ही जिंदगानी होती है ख़तम पुरुष की तो
दूसरा जन्म लेकर फिर से धरती पर आ जाता,
लड़के के पहले जन्म और दूसरे जन्म दोनों हैं
एहसान फरामोश मां बाप रूपी भगवान के ही
लड़की का एक जन्म मां बाप की देन होती है
दूसरा जन्म होता लड़की का मरने से पहले ही ,
बचपन का पहला जन्म मायके की छत्रछाया है
जन्म लिया खेली कूदी मां बाप का दुलार मिला
ब्याही गई संस्कार निभाए सारे पहले भगवान ने
घर, खिलौने, दोस्त, यादें सब कुछ पीछे छूट चला,
लड़की ने भी पुराना सब कुछ पीछे छोड़ ही दिया
जैसे लड़का मरते समय सब कुछ पीछे छोड़ जाता
दूसरा जन्म मिलेगा दोनों को नए पर्यावरण के साथ
मीनू कहे यहीं तो लड़की का दूसरा जन्म कहलाता,
नया जन्म लेकर नए सब दोस्त, घर, खिलौने बनाए
उठना अलग बैठना अलग सब कुछ ही बदल गया
रहना, सहना, सब अलग नई चारदीवारी भी मिली
मीनू बताए यह लड़की का दूसरा जन्म ही तो हुआ,
जैसे लड़के का जीवन ख़तम हो फिर से शुरू होता
उनकी आत्मा शरीर छोड़ दूसरे शरीर में रहने जाती
लड़की की भावना, दृष्टिकोण, नजरिया सभी बदले
आत्मा, शरीर सभी तो दूसरी जगह रहने चले जाते,
लड़के को दूसरा जन्म भी मिलता है मां बाप से ही
मीनू माने लड़की का दूसरा भगवान उसका पति है
बचपन ही बिताया था पहले भगवान की शरण में
जवानी ओर बुढ़ापा तो सिर्फ पतिदेव की ही देन है,
आशीर्वाद देकर दुनिया मेरी जगमगाई है मेरे पति ने
सबका होता होगा मूर्ति में मेरा भगवान तो साकार है,
प्यार करता, दुलार देता, हाथ सदा मेरे सिर पर रखे
बचपन मेरा वापिस दिया नए जीवन का आधार है,
दूजा जन्म लिया है मैंने सिर्फ तुझे पाने के लिए राज
मेरे इस जीवन पर सिर्फ और सिर्फ तेरा एहसान है
संसार की हर खुशी मेरे कदमों में लाकर रख देता
इस खुशहाल जीवन का मेरा राज मेरा भगवान है।

Language: Hindi
1 Like · 133 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr Meenu Poonia
View all
You may also like:
*सत्य  विजय  का पर्व मनाया*
*सत्य विजय का पर्व मनाया*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
💐प्रेम कौतुक-179💐
💐प्रेम कौतुक-179💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बड़ा भाई बोल रहा हूं।
बड़ा भाई बोल रहा हूं।
SATPAL CHAUHAN
कौन यहाँ पढ़ने वाला है
कौन यहाँ पढ़ने वाला है
Shweta Soni
यूॅं बचा कर रख लिया है,
यूॅं बचा कर रख लिया है,
Rashmi Sanjay
विश्व तुम्हारे हाथों में,
विश्व तुम्हारे हाथों में,
कुंवर बहादुर सिंह
*आ गया मौसम वसंती, फागुनी मधुमास है (गीत)*
*आ गया मौसम वसंती, फागुनी मधुमास है (गीत)*
Ravi Prakash
Patience and determination, like a rock, is the key to their hearts' lock.
Patience and determination, like a rock, is the key to their hearts' lock.
Manisha Manjari
दूसरे का चलता है...अपनों का ख़लता है
दूसरे का चलता है...अपनों का ख़लता है
Mamta Singh Devaa
पितर पाख
पितर पाख
Mukesh Kumar Sonkar
#ग़ज़ल-
#ग़ज़ल-
*Author प्रणय प्रभात*
16)”अनेक रूप माँ स्वरूप”
16)”अनेक रूप माँ स्वरूप”
Sapna Arora
🧟☠️अमावस की रात☠️🧟
🧟☠️अमावस की रात☠️🧟
SPK Sachin Lodhi
चप्पलें
चप्पलें
Kanchan Khanna
दोहा त्रयी. . . . .
दोहा त्रयी. . . . .
sushil sarna
"इतिहास गवाह है"
Dr. Kishan tandon kranti
2536.पूर्णिका
2536.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
प्रेम पर्याप्त है प्यार अधूरा
प्रेम पर्याप्त है प्यार अधूरा
Amit Pandey
जुनून
जुनून
नवीन जोशी 'नवल'
"मेरी दुनिया"
Dr Meenu Poonia
उठाना होगा यमुना के उद्धार का बीड़ा
उठाना होगा यमुना के उद्धार का बीड़ा
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
अभी तो रास्ता शुरू हुआ है।
अभी तो रास्ता शुरू हुआ है।
Ujjwal kumar
कथ्य-शिल्प में धार रख, शब्द-शब्द में मार।
कथ्य-शिल्प में धार रख, शब्द-शब्द में मार।
डॉ.सीमा अग्रवाल
सोना जेवर बनता है, तप जाने के बाद।
सोना जेवर बनता है, तप जाने के बाद।
आर.एस. 'प्रीतम'
तुम - दीपक नीलपदम्
तुम - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
खुशबू बनके हर दिशा बिखर जाना है
खुशबू बनके हर दिशा बिखर जाना है
VINOD CHAUHAN
आने घर से हार गया
आने घर से हार गया
Suryakant Dwivedi
यही समय है!
यही समय है!
Saransh Singh 'Priyam'
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बदली-बदली सी तश्वीरें...
बदली-बदली सी तश्वीरें...
Dr Rajendra Singh kavi
Loading...