Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 May 2023 · 1 min read

मुहब्बत कुछ इस कदर, हमसे बातें करती है…

इश्क़ मुस्कुराता है
प्रेम सब कुछ कह जाता है
ज़िंदगी में जब रिश्ता
अटूट बन जाता है
आँचल लहराकर
प्रिये के हाथों में हो जाता है
मुश्किलें आसान सी
जीवन संवर जाता है
खामोशियाँ दूर खड़ी
तुमको निहारा करती है
ख्वाहिशें चुप चाप
तुमसे बातें करती है
मुहब्बत कुछ इस कदर
हमसे बातें करती है…

130 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
// प्रसन्नता //
// प्रसन्नता //
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
सन्देश खाली
सन्देश खाली
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
■ शुभागमन गणराज 💐
■ शुभागमन गणराज 💐
*Author प्रणय प्रभात*
मेरी नज़्म, शायरी,  ग़ज़ल, की आवाज हो तुम
मेरी नज़्म, शायरी, ग़ज़ल, की आवाज हो तुम
अनंत पांडेय "INϕ9YT"
"बिन स्याही के कलम "
Pushpraj Anant
जो ना होना था
जो ना होना था
shabina. Naaz
मेरे विचार
मेरे विचार
Anju
संगत
संगत
Sandeep Pande
हिन्दी दिवस
हिन्दी दिवस
Mahender Singh
जिसने अस्मत बेचकर किस्मत बनाई हो,
जिसने अस्मत बेचकर किस्मत बनाई हो,
Sanjay ' शून्य'
प्रीति
प्रीति
Mahesh Tiwari 'Ayan'
बेचैनी तब होती है जब ध्यान लक्ष्य से हट जाता है।
बेचैनी तब होती है जब ध्यान लक्ष्य से हट जाता है।
Rj Anand Prajapati
2869.*पूर्णिका*
2869.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*लता (बाल कविता)*
*लता (बाल कविता)*
Ravi Prakash
हम और तुम जीवन के साथ
हम और तुम जीवन के साथ
Neeraj Agarwal
ये गीत और ग़ज़ल ही मेरे बाद रहेंगे,
ये गीत और ग़ज़ल ही मेरे बाद रहेंगे,
सत्य कुमार प्रेमी
मेरी हस्ती का अभी तुम्हे अंदाज़ा नही है
मेरी हस्ती का अभी तुम्हे अंदाज़ा नही है
'अशांत' शेखर
"कवि"
Dr. Kishan tandon kranti
कबीर एवं तुलसीदास संतवाणी
कबीर एवं तुलसीदास संतवाणी
Khaimsingh Saini
इंतज़ार मिल जाए
इंतज़ार मिल जाए
Dr fauzia Naseem shad
कभी कभी भाग दौड इतना हो जाता है की बिस्तर पे गिरने के बाद कु
कभी कभी भाग दौड इतना हो जाता है की बिस्तर पे गिरने के बाद कु
पूर्वार्थ
एक काफ़िर की दुआ
एक काफ़िर की दुआ
Shekhar Chandra Mitra
पिछले पन्ने 10
पिछले पन्ने 10
Paras Nath Jha
पेड़ और चिरैया
पेड़ और चिरैया
Saraswati Bajpai
शिक्षार्थी को एक संदेश🕊️🙏
शिक्षार्थी को एक संदेश🕊️🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
बात न बनती युद्ध से, होता बस संहार।
बात न बनती युद्ध से, होता बस संहार।
डॉ.सीमा अग्रवाल
नज़र नज़र का फर्क है साहेब...!!
नज़र नज़र का फर्क है साहेब...!!
Vishal babu (vishu)
💐प्रेम कौतुक-313💐
💐प्रेम कौतुक-313💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
लीकछोड़ ग़ज़ल / MUSAFIR BAITHA
लीकछोड़ ग़ज़ल / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
तीजनबाई
तीजनबाई
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Loading...