Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 May 2024 · 1 min read

मीत की प्रतीक्षा –

कुकुभ छंदगीत सृजन–
शृंगार रस–
मीत की प्रतीक्षा —
*****************************

मीत गुलाबी सुमन खिले हैं,अमिय प्रेम रस घुलता है।
छैल-छबीले ओ मन बसिया,पिया-पिया दिल करता है।
आ जाओ अब मोरे बालम, सूना पनघट खलता है।
छैल-छबीले ओ मन बसिया,पिया पिया दिल करता है।

अंग-अंग से राग छलकता, प्रियवर आओ रंग भरो।
अंग लगाकर रंग लगा दो, तृषित नैन की तृषा हरो।
छम छमा छम झूम के नाचूँ, मोर बना मन नचता है।
छैल-छबीले ओ मन बसिया,पिया-पिया दिल करता है।

चंद्र किरण सा मुखड़ा चमके, मंजुल लाली छाई है।
अद्भुत रति शृंगार सजाए, मखमल हरी बिछाई है।
तन-मन पर मदहोशी छाई, समां मिलन का ढलता है
छैल-छबीले ओ मन बसिया,पिया-पिया दिल करता है।

श्वासों के तारों पर नगमें, पिया नाम की गूँजें माला।‌
प्रणय नाद झंकृत हो उठता,कुछ न सूझे पंथ निराला।‌
शुभ्र ज्योत्सना पुलकित गाए, चाँद गगन में चलता है।
छैल-छबीले ओ मन बसिया,पिया-पिया दिल करता है।

मेरा जीवन धन्य देवता, तन-मन बना शिवाला है।
तन-मन प्राण हँसेंगे देखो, छाया नया उजाला है।
मिटी दूरियाँ सारी प्रीतम,जिया यही अब कहता है।
छैल छबीले ओ मन बसिया,पिया-पिया दिल करता है।

✍️ सीमा गर्ग मंजरी
मौलिक सृजन
मेरठ कैंट उत्तर प्रदेश।

Language: Hindi
1 Like · 24 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बुंदेली साहित्य- राना लिधौरी के दोहे
बुंदेली साहित्य- राना लिधौरी के दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
कविता कि प्रेम
कविता कि प्रेम
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
‘बेटी की विदाई’
‘बेटी की विदाई’
पंकज कुमार कर्ण
बहती नदी का करिश्मा देखो,
बहती नदी का करिश्मा देखो,
Buddha Prakash
ये जो मुहब्बत लुका छिपी की नहीं निभेगी तुम्हारी मुझसे।
ये जो मुहब्बत लुका छिपी की नहीं निभेगी तुम्हारी मुझसे।
सत्य कुमार प्रेमी
*मृत्यु : पॉंच दोहे*
*मृत्यु : पॉंच दोहे*
Ravi Prakash
इंसान भी तेरा है
इंसान भी तेरा है
Dr fauzia Naseem shad
*The Bus Stop*
*The Bus Stop*
Poonam Matia
राम की आराधना
राम की आराधना
surenderpal vaidya
"कैंची"
Dr. Kishan tandon kranti
दोस्ती
दोस्ती
Neeraj Agarwal
ॐ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
सत्य सनातन गीत है गीता
सत्य सनातन गीत है गीता
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मजदूर
मजदूर
Namita Gupta
जग मग दीप  जले अगल-बगल में आई आज दिवाली
जग मग दीप जले अगल-बगल में आई आज दिवाली
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
निर्मल निर्मला
निर्मल निर्मला
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
बह्र ## 2122 2122 2122 212 फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलुन काफिया ## आते रदीफ़ ## रहे
बह्र ## 2122 2122 2122 212 फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलातुन फ़ाइलुन काफिया ## आते रदीफ़ ## रहे
Neelam Sharma
*शब्दों मे उलझे लोग* ( अयोध्या ) 21 of 25
*शब्दों मे उलझे लोग* ( अयोध्या ) 21 of 25
Kshma Urmila
मन
मन
SATPAL CHAUHAN
भ्रम
भ्रम
Dr.Priya Soni Khare
#justareminderekabodhbalak
#justareminderekabodhbalak
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मा भारती को नमन
मा भारती को नमन
Bodhisatva kastooriya
2382.पूर्णिका
2382.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
काश वो होते मेरे अंगना में
काश वो होते मेरे अंगना में
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
अक्सर कोई तारा जमी पर टूटकर
अक्सर कोई तारा जमी पर टूटकर
'अशांत' शेखर
अभी कैसे हिम्मत हार जाऊं मैं ,
अभी कैसे हिम्मत हार जाऊं मैं ,
शेखर सिंह
#मज़दूर
#मज़दूर
Dr. Priya Gupta
चुना था हमने जिसे देश के विकास खातिर
चुना था हमने जिसे देश के विकास खातिर
Manoj Mahato
ज़िन्दगी में हमेशा खुशियों की सौगात रहे।
ज़िन्दगी में हमेशा खुशियों की सौगात रहे।
Phool gufran
భారత దేశ వీరుల్లారా
భారత దేశ వీరుల్లారా
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
Loading...