Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Aug 2021 · 1 min read

मां मातृभूमि और तिरंगा मेरा पहला प्यार है

मां मातृभूमि और तिरंगा, मेरा पहला प्यार है
तन मन धन अर्पण है मेरा, सौभाग्य और त्यौहार है यही धर्म है यही कर्म है, यही मेरा व्यवहार है
मां मातृभूमि और तिरंगा, मेरा पहला प्यार है
मातृभूमि को पूर्वजों ने, अपने खून से सींचा है
हंसते हंसते शीश दिया, तब इनका खाका खींचा है
एक तो मैं क्या जन्म हजारों, कर दूं माटी पर बार है
मां मातृभूमि और तिरंगा, मेरा पहला प्यार है
मां मातृभूमि का ऋणी हूं मैं, बहुत बड़ा उपकार है आन बान और शान पर इनकी, आंच नहीं आने दूंगा दुश्मन चाहे कोई भी हो, जिंदा ना जाने दूंगा
भारत माता की आन बचाने, हर बच्चा तैयार है
मां मातृभूमि और तिरंगा, मेरा पहला प्यार है
मेरा पहला प्यार है

सुरेश कुमार चतुर्वेदी

Language: Hindi
3 Likes · 2 Comments · 207 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from सुरेश कुमार चतुर्वेदी
View all
You may also like:
आलस मेरी मोहब्बत है
आलस मेरी मोहब्बत है
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
धर्म और विडम्बना
धर्म और विडम्बना
Mahender Singh
"बकरी"
Dr. Kishan tandon kranti
उसकी वो बातें बेहद याद आती है
उसकी वो बातें बेहद याद आती है
Rekha khichi
सोचके बत्तिहर बुत्ताएल लोकके व्यवहार अंधा होइछ, ढल-फुँनगी पर
सोचके बत्तिहर बुत्ताएल लोकके व्यवहार अंधा होइछ, ढल-फुँनगी पर
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
ह्रदय
ह्रदय
Monika Verma
स्त्री का प्रेम ना किसी का गुलाम है और ना रहेगा
स्त्री का प्रेम ना किसी का गुलाम है और ना रहेगा
प्रेमदास वसु सुरेखा
माता रानी का भजन अरविंद भारद्वाज
माता रानी का भजन अरविंद भारद्वाज
अरविंद भारद्वाज
मैं उन लोगों से उम्मीद भी नहीं रखता हूं जो केवल मतलब के लिए
मैं उन लोगों से उम्मीद भी नहीं रखता हूं जो केवल मतलब के लिए
Ranjeet kumar patre
मै थक गया
मै थक गया
भरत कुमार सोलंकी
संग रहूँ हरपल सदा,
संग रहूँ हरपल सदा,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बात
बात
Ajay Mishra
गहरे ध्यान में चले गए हैं,पूछताछ से बचकर।
गहरे ध्यान में चले गए हैं,पूछताछ से बचकर।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
4) धन्य है सफर
4) धन्य है सफर
पूनम झा 'प्रथमा'
साया
साया
Harminder Kaur
हर सफ़र ज़िंदगी नहीं होता
हर सफ़र ज़िंदगी नहीं होता
Dr fauzia Naseem shad
HAPPY CHILDREN'S DAY!!
HAPPY CHILDREN'S DAY!!
Srishty Bansal
*The Bus Stop*
*The Bus Stop*
Poonam Matia
समय ही अहंकार को पैदा करता है और समय ही अहंकार को खत्म करता
समय ही अहंकार को पैदा करता है और समय ही अहंकार को खत्म करता
Rj Anand Prajapati
अगर युवराज का ब्याह हो चुका होता, तो अमेठी में प्रत्याशी का
अगर युवराज का ब्याह हो चुका होता, तो अमेठी में प्रत्याशी का
*प्रणय प्रभात*
शिव तेरा नाम
शिव तेरा नाम
Swami Ganganiya
धरा हमारी स्वच्छ हो, सबका हो उत्कर्ष।
धरा हमारी स्वच्छ हो, सबका हो उत्कर्ष।
surenderpal vaidya
*जो कुछ तुमने दिया प्रभो, सौ-सौ आभार तुम्हारा(भक्ति-गीत)*
*जो कुछ तुमने दिया प्रभो, सौ-सौ आभार तुम्हारा(भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
🥀✍अज्ञानी की 🥀
🥀✍अज्ञानी की 🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
23/152.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/152.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
***
*** " मन मेरा क्यों उदास है....? " ***
VEDANTA PATEL
24)”मुस्करा दो”
24)”मुस्करा दो”
Sapna Arora
फकीरी
फकीरी
Sanjay ' शून्य'
हरसिंगार
हरसिंगार
Shweta Soni
*** मुफ़लिसी ***
*** मुफ़लिसी ***
Chunnu Lal Gupta
Loading...