Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Feb 2017 · 1 min read

मांझी

लड़ाई गर मुद्दे पर हो तो लड़ने में मजा आता है
उलझकर उलझनों में जीने का आनद आता है
चिकनी सडको पर रफ़्तार आजमा लेते है सभी
तूफानी लहरो में कश्ती संभाले मांझी कहाता है !!
!
!
!
डी. के. निवातिया

Language: Hindi
834 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अभिनय से लूटी वाहवाही
अभिनय से लूटी वाहवाही
Nasib Sabharwal
विश्व की पांचवीं बडी अर्थव्यवस्था
विश्व की पांचवीं बडी अर्थव्यवस्था
Mahender Singh
If you have believe in you and faith in the divine power .yo
If you have believe in you and faith in the divine power .yo
Nupur Pathak
2657.*पूर्णिका*
2657.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
ज़िंदगी के मर्म
ज़िंदगी के मर्म
Shyam Sundar Subramanian
#कटाक्ष
#कटाक्ष
*Author प्रणय प्रभात*
"साहस का पैमाना"
Dr. Kishan tandon kranti
हम इतने सभ्य है कि मत पूछो
हम इतने सभ्य है कि मत पूछो
ruby kumari
💐प्रेम कौतुक-478💐
💐प्रेम कौतुक-478💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सांसों के सितार पर
सांसों के सितार पर
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
ज़िंदगी से शिकायत
ज़िंदगी से शिकायत
Dr fauzia Naseem shad
उस वक़्त मैं
उस वक़्त मैं
gurudeenverma198
छोटी सी बात
छोटी सी बात
Kanchan Khanna
चढ़ा हूँ मैं गुमनाम, उन सीढ़ियों तक
चढ़ा हूँ मैं गुमनाम, उन सीढ़ियों तक
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
[पुनर्जन्म एक ध्रुव सत्य] अध्याय 6
[पुनर्जन्म एक ध्रुव सत्य] अध्याय 6
Pravesh Shinde
दो शे'र ( मतला और इक शे'र )
दो शे'र ( मतला और इक शे'र )
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
"कुछ अनकही"
Ekta chitrangini
Outsmart Anxiety
Outsmart Anxiety
पूर्वार्थ
भोले शंकर ।
भोले शंकर ।
Anil Mishra Prahari
एक ख़त रूठी मोहब्बत के नाम
एक ख़त रूठी मोहब्बत के नाम
अजहर अली (An Explorer of Life)
संकल्प
संकल्प
Dr. Pradeep Kumar Sharma
सरस्वती वंदना-2
सरस्वती वंदना-2
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
झोली फैलाए शामों सहर
झोली फैलाए शामों सहर
नूरफातिमा खातून नूरी
❤बिना मतलब के जो बात करते है
❤बिना मतलब के जो बात करते है
Satyaveer vaishnav
हमारा ऐसा हो गणतंत्र।
हमारा ऐसा हो गणतंत्र।
सत्य कुमार प्रेमी
*जीवन  (कुंडलिया)*
*जीवन (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
मान भी जाओ
मान भी जाओ
Mahesh Tiwari 'Ayan'
आंखो में है नींद पर सोया नही जाता
आंखो में है नींद पर सोया नही जाता
Ram Krishan Rastogi
4-मेरे माँ बाप बढ़ के हैं भगवान से
4-मेरे माँ बाप बढ़ के हैं भगवान से
Ajay Kumar Vimal
जब ये ख्वाहिशें बढ़ गई।
जब ये ख्वाहिशें बढ़ गई।
Taj Mohammad
Loading...