Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Oct 2022 · 1 min read

माँ सिद्धिदात्री

नवम दिवस को पूजते, अंतिम माँ का रूप।
सिद्धीदात्री सुमात हैं, अद्भुत और अनूप ।।
अद्भुत और अनूप, अलौकिक हैं माँ अम्बे ।
अस्त्र शस्त्र ले हाथ, हरें भय को जगदम्बे ।
नवदुर्गा,नवज्योति, दूर करतीं जग का तम ।
पावन है नवरात्रि, झूमते दिवस नवम हम।।

वन्दना नामदेव

89 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हिन्दी दोहा - स्वागत
हिन्दी दोहा - स्वागत
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
शब्द वाणी
शब्द वाणी
Vijay kannauje
क्यूँ ना करूँ शुक्र खुदा का
क्यूँ ना करूँ शुक्र खुदा का
shabina. Naaz
सुख मिलता है अपनेपन से, भरे हुए परिवार में (गीत )
सुख मिलता है अपनेपन से, भरे हुए परिवार में (गीत )
Ravi Prakash
दोस्ती और प्यार पर प्रतिबन्ध
दोस्ती और प्यार पर प्रतिबन्ध
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
तितली रानी
तितली रानी
Vishnu Prasad 'panchotiya'
ਹਰ ਅਲਫਾਜ਼ ਦੀ ਕੀਮਤ
ਹਰ ਅਲਫਾਜ਼ ਦੀ ਕੀਮਤ
Surinder blackpen
मकर संक्रांति पर्व
मकर संक्रांति पर्व
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
लिखने से रह गये
लिखने से रह गये
Dr fauzia Naseem shad
अरे शुक्र मनाओ, मैं शुरू में ही नहीं बताया तेरी मुहब्बत, वर्ना मेरे शब्द बेवफ़ा नहीं, जो उनको समझाया जा रहा है।
अरे शुक्र मनाओ, मैं शुरू में ही नहीं बताया तेरी मुहब्बत, वर्ना मेरे शब्द बेवफ़ा नहीं, जो उनको समझाया जा रहा है।
Anand Kumar
तुम्हारा प्यार साथ था गोया
तुम्हारा प्यार साथ था गोया
Ranjana Verma
हरा-भरा बगीचा
हरा-भरा बगीचा
Shekhar Chandra Mitra
पहला प्यार - अधूरा खाब
पहला प्यार - अधूरा खाब
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
#लघुकथा / कॉलेज का आख़िरी दिन
#लघुकथा / कॉलेज का आख़िरी दिन
*Author प्रणय प्रभात*
ऐ ज़िन्दगी ..
ऐ ज़िन्दगी ..
Dr. Seema Varma
बुनते हैं जो रात-दिन
बुनते हैं जो रात-दिन
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
'Here's the tale of Aadhik maas..' (A gold winning poem)
'Here's the tale of Aadhik maas..' (A gold winning poem)
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
बेहयाई दुनिया में इस कदर छाई ।
बेहयाई दुनिया में इस कदर छाई ।
ओनिका सेतिया 'अनु '
मैं करता हुँ उस्सें पहल तो बात हो जाती है
मैं करता हुँ उस्सें पहल तो बात हो जाती है
Sonu sugandh
💐अज्ञात के प्रति-100💐
💐अज्ञात के प्रति-100💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
वास्तविक प्रकाशक
वास्तविक प्रकाशक
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
याद करेगा कौन फिर, मर जाने के बाद
याद करेगा कौन फिर, मर जाने के बाद
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
क्या बात है फौजी
क्या बात है फौजी
Satish Srijan
चिरकाल तक लहराता अपना तिरंगा रहे
चिरकाल तक लहराता अपना तिरंगा रहे
Suryakant Angara Kavi official
प्यार का रिश्ता
प्यार का रिश्ता
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
कविता: सपना
कविता: सपना
Rajesh Kumar Arjun
तो मेरा नाम नही//
तो मेरा नाम नही//
गुप्तरत्न
प्यासा_कबूतर
प्यासा_कबूतर
Shakil Alam
एकीकरण की राह चुनो
एकीकरण की राह चुनो
Jatashankar Prajapati
!! जलता हुआ चिराग़ हूँ !!
!! जलता हुआ चिराग़ हूँ !!
Chunnu Lal Gupta
Loading...