Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jan 2024 · 1 min read

“मकर संक्रान्ति”

“मकर संक्रान्ति”
यह एक भौगोलिक घटना है। इस दिन सूर्य उत्तरायण होता है। अर्थात वह धनु से मकर में प्रवेश करता है। हर प्रान्त में इसका नाम और मनाने का तरीका भिन्न-भिन्न है। तमिलनाडु में यह पोंगल तथा पंजाब-हरियाणा में नई फसल का स्वागत करते हुए लोहड़ी पर्व के रूप में मनाया जाता है। यह पर्व अक्सर 14 जनवरी को अथवा एक दिन आगे या पीछे की तिथि में मनाया जाता है। इस दिन पतंग उड़ाने एवं तिल, गुड़, खिचड़ी खाने तथा दान-पुण्य करने का रिवाज है।

6 Likes · 3 Comments · 94 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
Life is too short to admire,
Life is too short to admire,
Sakshi Tripathi
स्त्री एक कविता है
स्त्री एक कविता है
SATPAL CHAUHAN
ग़ज़ल - फितरतों का ढेर
ग़ज़ल - फितरतों का ढेर
रोहताश वर्मा 'मुसाफिर'
नारी शक्ति वंदन
नारी शक्ति वंदन
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
आज के इस हाल के हम ही जिम्मेदार...
आज के इस हाल के हम ही जिम्मेदार...
डॉ.सीमा अग्रवाल
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
🥀 *गुरु चरणों की धूल*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
3117.*पूर्णिका*
3117.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
विधा - गीत
विधा - गीत
Harminder Kaur
" दूरियां"
Pushpraj Anant
*अभिनंदन के लिए बुलाया, है तो जाना ही होगा (हिंदी गजल/ गीतिक
*अभिनंदन के लिए बुलाया, है तो जाना ही होगा (हिंदी गजल/ गीतिक
Ravi Prakash
कि  इतनी भीड़ है कि मैं बहुत अकेली हूं ,
कि इतनी भीड़ है कि मैं बहुत अकेली हूं ,
Mamta Rawat
शीर्षक:
शीर्षक: "ओ माँ"
MSW Sunil SainiCENA
मेरी पायल की वो प्यारी सी तुम झंकार जैसे हो,
मेरी पायल की वो प्यारी सी तुम झंकार जैसे हो,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
■ अवध की शाम
■ अवध की शाम
*Author प्रणय प्रभात*
जीवन और रंग
जीवन और रंग
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
सफलता के बीज बोने का सर्वोत्तम समय
सफलता के बीज बोने का सर्वोत्तम समय
Paras Nath Jha
"मैं एक कलमकार हूँ"
Dr. Kishan tandon kranti
🍁अंहकार🍁
🍁अंहकार🍁
Dr. Vaishali Verma
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
सीरत
सीरत
Shutisha Rajput
यही समय है!
यही समय है!
Saransh Singh 'Priyam'
*पुरानी पेंशन हक है मेरा(गीत)*
*पुरानी पेंशन हक है मेरा(गीत)*
Dushyant Kumar
बहुमूल्य जीवन और युवा पीढ़ी
बहुमूल्य जीवन और युवा पीढ़ी
Gaurav Sony
ओ लहर बहती रहो …
ओ लहर बहती रहो …
Rekha Drolia
ये इंसानी फ़ितरत है जनाब !
ये इंसानी फ़ितरत है जनाब !
पूर्वार्थ
पेड़ से कौन बाते करता है ?
पेड़ से कौन बाते करता है ?
Buddha Prakash
आब आहीं हमर गीत बनल छी ,रचना केँ श्रृंगार बनल छी, मिठगर बोली
आब आहीं हमर गीत बनल छी ,रचना केँ श्रृंगार बनल छी, मिठगर बोली
DrLakshman Jha Parimal
गिलहरी
गिलहरी
Satish Srijan
फितरत
फितरत
Dr fauzia Naseem shad
गुरु रामदास
गुरु रामदास
कवि रमेशराज
Loading...