Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 May 2023 · 1 min read

भ्रम

हर कोई अपने आप के एक भ्रम मे जी रहा है ,
कभी संबंधों के, तो कभी अनुबंधों के ,
कभी अपेक्षा के, तो कभी प्रतीक्षा के ,
कभी भाग्य के, तो कभी त्याग के ,
कभी वरीयता के , तो कभी गोपनीयता के,
कभी सम्मान के , तो कभी अभिमान के,
कभी प्रेमासक्ति के, तो कभी स्वशक्ति के ,
कभी व्यवहार के , तो कभी विचार के ,
कभी सुंदरता के , तो कभी संपन्नता के ,
कभी मान्यताओं के , तो कभी धारणाओं के,
कभी कल्पनाओं के , तो कभी भावनाओं के,
कभी स्वामित्व के , तो कभी आधिपत्य के ,
कभी सिद्धि के , तो कभी प्रसिद्धि के,
कभी विजेता के , तो कभी श्रेष्ठता के,
मानवजीवन आविर्भाव से अवसान तक,
इस भ्रम से पार न पा सका अब तक।

Language: Hindi
355 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Shyam Sundar Subramanian
View all
You may also like:
आज हमने उनके ऊपर कुछ लिखने की कोशिश की,
आज हमने उनके ऊपर कुछ लिखने की कोशिश की,
Vishal babu (vishu)
"यही दुनिया है"
Dr. Kishan tandon kranti
महिमा है सतनाम की
महिमा है सतनाम की
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मैं  नहीं   हो  सका,   आपका  आदतन
मैं नहीं हो सका, आपका आदतन
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
जुदा होते हैं लोग ऐसे भी
जुदा होते हैं लोग ऐसे भी
Dr fauzia Naseem shad
संभव कब है देखना ,
संभव कब है देखना ,
sushil sarna
वो बदल रहे हैं।
वो बदल रहे हैं।
Taj Mohammad
#drarunkumarshastri
#drarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
विश्वकर्मा जयंती उत्सव की सभी को हार्दिक बधाई
विश्वकर्मा जयंती उत्सव की सभी को हार्दिक बधाई
Harminder Kaur
रमेशराज का हाइकु-शतक
रमेशराज का हाइकु-शतक
कवि रमेशराज
*बूढ़े होने पर भी अपनी बुद्धि को तेज रखना चाहते हैं तो अपनी
*बूढ़े होने पर भी अपनी बुद्धि को तेज रखना चाहते हैं तो अपनी
Shashi kala vyas
जिंदगी में पराया कोई नहीं होता,
जिंदगी में पराया कोई नहीं होता,
नेताम आर सी
पूस की रात
पूस की रात
Atul "Krishn"
दिल ने गुस्ताखियाॅ॑ बहुत की हैं जाने-अंजाने
दिल ने गुस्ताखियाॅ॑ बहुत की हैं जाने-अंजाने
VINOD CHAUHAN
* मिट जाएंगे फासले *
* मिट जाएंगे फासले *
surenderpal vaidya
2693.*पूर्णिका*
2693.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
गजल सगीर
गजल सगीर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
बेटी परायो धन बताये, पिहर सु ससुराल मे पति थम्माये।
बेटी परायो धन बताये, पिहर सु ससुराल मे पति थम्माये।
Anil chobisa
अपनी स्टाईल में वो,
अपनी स्टाईल में वो,
Dr. Man Mohan Krishna
होता अगर मैं एक शातिर
होता अगर मैं एक शातिर
gurudeenverma198
जीवन का कठिन चरण
जीवन का कठिन चरण
पूर्वार्थ
*सुबह टहलना (बाल कविता)*
*सुबह टहलना (बाल कविता)*
Ravi Prakash
पिटूनिया
पिटूनिया
अनिल मिश्र
कुछ किताबें और
कुछ किताबें और
Shweta Soni
🌱मैं कल न रहूँ...🌱
🌱मैं कल न रहूँ...🌱
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
उठाना होगा यमुना के उद्धार का बीड़ा
उठाना होगा यमुना के उद्धार का बीड़ा
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
गांव
गांव
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
😊पुलिस को मशवरा😊
😊पुलिस को मशवरा😊
*Author प्रणय प्रभात*
हम जितने ही सहज होगें,
हम जितने ही सहज होगें,
लक्ष्मी सिंह
जिंदगी
जिंदगी
विजय कुमार अग्रवाल
Loading...