Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Jan 2017 · 1 min read

बेटियाँ

★बेटियाँ★
——————-
चम्पाहार श्रृंगार बेटियाँ
खुशबू का संसार बेटिया
घर की शोभा दुबरी करती
फिर भी मुख से कुछ न कहती
मूक रहे हर लेती पीड़ा
कब माँगे अधिकार बेटियाँ
थके हुये जीवन को देती
एक नया श्रृंगार बेटियाँ
मीरा झाँसी मदर टरेसा
बनकर आई थी ये बेटिया
आधी तूफान है बेटे तो
शीतल मंद बयार बेटियाँ।
शील समर्पण औ’ साहस का,
हैं सुन्दर श्रृंगार बेटियाँ।
पिता के सपनों को सच करतीं,
उनकी हैं मनुहार बेटियाँ।
ममता से तन मन पुलकित कर,
देती अतीव उपहार बेटियाँ।
पति के जीवन में अाकर के,
रचती इक संसार बेटियाँ।
और आन कि बात जो होती,
तेज धार तलवार बेटियाँ।
———
— प्रियंका झा ‘प्रवोधिनी’
———

Language: Hindi
2 Likes · 220 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हे परम पिता !
हे परम पिता !
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
पूजा
पूजा
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
यादों की शमा जलती है,
यादों की शमा जलती है,
Pushpraj Anant
2728.*पूर्णिका*
2728.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
नारी जागरूकता
नारी जागरूकता
Kanchan Khanna
मैं चल रहा था तन्हा अकेला
मैं चल रहा था तन्हा अकेला
..
वो हमसे पराये हो गये
वो हमसे पराये हो गये
Dr. Man Mohan Krishna
*मन के मीत किधर है*
*मन के मीत किधर है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
कीच कीच
कीच कीच
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
आप और हम जीवन के सच
आप और हम जीवन के सच
Neeraj Agarwal
*अज्ञानी की कलम  *शूल_पर_गीत*
*अज्ञानी की कलम *शूल_पर_गीत*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी
उदयमान सूरज साक्षी है ,
उदयमान सूरज साक्षी है ,
Vivek Mishra
कोरे कागज़ पर
कोरे कागज़ पर
हिमांशु Kulshrestha
- मर चुकी इंसानियत -
- मर चुकी इंसानियत -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
आंख बंद करके जिसको देखना आ गया,
आंख बंद करके जिसको देखना आ गया,
Ashwini Jha
यह ज़मीं है सबका बसेरा
यह ज़मीं है सबका बसेरा
gurudeenverma198
यें सारे तजुर्बे, तालीम अब किस काम का
यें सारे तजुर्बे, तालीम अब किस काम का
Keshav kishor Kumar
सदा सदाबहार हिंदी
सदा सदाबहार हिंदी
goutam shaw
#drarunkumarshastri
#drarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
पति मेरा मेरी जिंदगी का हमसफ़र है
पति मेरा मेरी जिंदगी का हमसफ़र है
VINOD CHAUHAN
****हमारे मोदी****
****हमारे मोदी****
Kavita Chouhan
खूबसूरत पड़ोसन का कंफ्यूजन
खूबसूरत पड़ोसन का कंफ्यूजन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
चमकना है सितारों सा
चमकना है सितारों सा
कवि दीपक बवेजा
Augmented Reality: Unveiling its Transformative Prospects
Augmented Reality: Unveiling its Transformative Prospects
Shyam Sundar Subramanian
मां
मां
Dr Parveen Thakur
पैसा बोलता है
पैसा बोलता है
Mukesh Kumar Sonkar
न्योता ठुकराने से पहले यदि थोड़ा ध्यान दिया होता।
न्योता ठुकराने से पहले यदि थोड़ा ध्यान दिया होता।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
आत्मविश्वास की कमी
आत्मविश्वास की कमी
Paras Nath Jha
सादगी मुझमें हैं,,,,
सादगी मुझमें हैं,,,,
पूर्वार्थ
न दीखे आँख का आँसू, छिपाती उम्र भर औरत(हिंदी गजल/ गीतिका)
न दीखे आँख का आँसू, छिपाती उम्र भर औरत(हिंदी गजल/ गीतिका)
Ravi Prakash
Loading...