Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Feb 2023 · 1 min read

बाँकी अछि हमर दूधक कर्ज / मातृभाषा दिवश पर हमर एक गाेट कविता

बाँकी अछि हमर दूधक कर्ज

केहन सपना हम मीता देखलौँ भोर में ।
माय मिथिला जगाबथि भरल नोर में ।।
कहथि रने वने घुमी अपन अधिकार लेल ।
छैं तूँ सुतल छुब्ध छी तोहर बिचार लेल ।।

कनिको बातपर हमरा तूं करै विचार ।
की सुतलासँ ककरो भेटलै अछि अधिकार ।।
जोरि एक एक हाथ बनवै जो लाखों हाथ ।
कर हिम्मत तूं पुत्र छियौ हम तोहर साथ ।।

अछि तोरापर बाँकी हमर दूधक कर्ज ।
करै एहिबेर तूं पुरा सबटा अपन फर्ज ।।
लौटादे हमर आब अपन स्वाभिमान ।
पुत्र कहेबे तूं महान हेतौ कर्म महान ।।

#मिथिला_बिहारी_नगरपालिका
#मिथिलेश्वर_मौवाही – ३
#धनुषा , #नेपाल

Language: Maithili
2 Likes · 158 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कभी हैं भगवा कभी तिरंगा देश का मान बढाया हैं
कभी हैं भगवा कभी तिरंगा देश का मान बढाया हैं
Shyamsingh Lodhi Rajput (Tejpuriya)
यक्ष प्रश्न
यक्ष प्रश्न
Shashi Mahajan
खुद के साथ ....खुशी से रहना......
खुद के साथ ....खुशी से रहना......
Dheerja Sharma
तुम होते हो नाराज़ तो,अब यह नहीं करेंगे
तुम होते हो नाराज़ तो,अब यह नहीं करेंगे
gurudeenverma198
प्रेम एक सहज भाव है जो हर मनुष्य में कम या अधिक मात्रा में स
प्रेम एक सहज भाव है जो हर मनुष्य में कम या अधिक मात्रा में स
Dr MusafiR BaithA
एक उड़ान, साइबेरिया टू भारत (कविता)
एक उड़ान, साइबेरिया टू भारत (कविता)
Mohan Pandey
Good morning 🌅🌄
Good morning 🌅🌄
Sanjay ' शून्य'
घर के किसी कोने में
घर के किसी कोने में
आकांक्षा राय
ध्यान एकत्र
ध्यान एकत्र
शेखर सिंह
दोहे
दोहे
अशोक कुमार ढोरिया
मुहब्बत
मुहब्बत
बादल & बारिश
नुकसान हो या मुनाफा हो
नुकसान हो या मुनाफा हो
Manoj Mahato
सत्य को सूली
सत्य को सूली
Shekhar Chandra Mitra
बिखरा
बिखरा
Dr.Pratibha Prakash
हे ईश्वर
हे ईश्वर
Ashwani Kumar Jaiswal
बड़ी तक़लीफ़ होती है
बड़ी तक़लीफ़ होती है
Davina Amar Thakral
"नींद की तलाश"
Pushpraj Anant
#आज_का_संदेश
#आज_का_संदेश
*प्रणय प्रभात*
हम में,तुम में दूरी क्यू है
हम में,तुम में दूरी क्यू है
Keshav kishor Kumar
मेरा शरीर और मैं
मेरा शरीर और मैं
DR ARUN KUMAR SHASTRI
के श्रेष्ठ छथि ,के समतुल्य छथि आ के आहाँ सँ कनिष्ठ छथि अनुमा
के श्रेष्ठ छथि ,के समतुल्य छथि आ के आहाँ सँ कनिष्ठ छथि अनुमा
DrLakshman Jha Parimal
*जो कुछ तुमने दिया प्रभो, सौ-सौ आभार तुम्हारा(भक्ति-गीत)*
*जो कुछ तुमने दिया प्रभो, सौ-सौ आभार तुम्हारा(भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
"लाल गुलाब"
Dr. Kishan tandon kranti
माना तुम रसखान हो, तुलसी, मीर, कबीर।
माना तुम रसखान हो, तुलसी, मीर, कबीर।
Suryakant Dwivedi
2994.*पूर्णिका*
2994.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
जन्म दिवस
जन्म दिवस
Jatashankar Prajapati
गुरु का महत्व
गुरु का महत्व
Indu Singh
मज़हब नहीं सिखता बैर
मज़हब नहीं सिखता बैर
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
दुआओं में जिनको मांगा था।
दुआओं में जिनको मांगा था।
Taj Mohammad
*
*"कार्तिक मास"*
Shashi kala vyas
Loading...