Sep 7, 2016 · 1 min read

बरसे बरसे बरखा बरसे

बरसे बरसे बरखा बरसे,
पिया मिलन को जिया तरसे,

घनघोर बदरिया छायी रे,
जले बदन बरखा के जल से,

पुरज़ोर बिजुरिया भी है चमके,
सावन संग मेरे नैना भी बरसें,

कहीं कोई कोयलिया कु कु कूके,
चिढ़ होवे मुझे बहती सर्द हवा से,

छोड़ “मनी” सेवाई तू आजा रे,
संग तेरे झूमने को है मन तरसे,
तू आजा रे….

1 Like · 227 Views
You may also like:
घर
पंकज कुमार "कर्ण"
💐प्रेम की राह पर-53💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पिता
Manisha Manjari
"कर्मफल
Vikas Sharma'Shivaaya'
आप कौन है
Sandeep Albela
दया के तुम हो सागर पापा।
Taj Mohammad
समीक्षा -'रचनाकार पत्रिका' संपादक 'संजीत सिंह यश'
Rashmi Sanjay
स्वेद का, हर कण बताता, है जगत ,आधार तुम से।।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
ग्रीष्म ऋतु भाग ३
Vishnu Prasad 'panchotiya'
सूरज से मनुहार (ग्रीष्म-गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
चूँ-चूँ चूँ-चूँ आयी चिड़िया
Pt. Brajesh Kumar Nayak
छलकाओं न नैना
Dr. Alpa H.
poem
पंकज ललितपुर
कच्चे आम
Prabhat Ranjan
पितृ स्तुति
दुष्यन्त 'बाबा'
पानी यौवन मूल
Jatashankar Prajapati
हम आ जायेंगें।
Taj Mohammad
एक मजदूर
Rashmi Sanjay
पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी, एक सच्चे इंसान थे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*सुकृति: हैप्पी वर्थ डे* 【बाल कविता 】
Ravi Prakash
🌺🌺Kill your sorrows with your willpower🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
🌺🌻🌷तुम मिलोगे मुझे यह वादा करो🌺🌻🌷
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
💐💐प्रेम की राह पर-18💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
💐💐धड़कता दिल कहे सब कुछ तुम्हारी याद आती है💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
💐कलेजा फट क्यूँ नहीँ गया💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बेपरवाह बचपन है।
Taj Mohammad
** यकीन **
Dr. Alpa H.
सद्आत्मा शिवाला
Pt. Brajesh Kumar Nayak
" राजस्थान दिवस "
The jaswant Lakhara
याद आते हैं।
Taj Mohammad
Loading...