Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Jun 2023 · 1 min read

बधाई का गणित / मुसाफ़िर बैठा

टेबल चिन्तक मित्र का
एसएमएस-सन्देश आया –
इस स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर
हम एक बार पुनः संकल्पित हों
इस बात के लिए कि
स्वतंत्रता का सम्मान करेंगे
अक्षुण्ण रखेंगे
इसके गण प्रतीकों को

और लगे हाथ इस मौके की
बधाई दे डाली मुझे मित्र ने

जवाबी सन्देश मैंने भी दागा
कहा मित्र को –
बधाई दे सकूँ तुम्हें भी
इस अवसर की
मुझे भी कम बेकरारी नहीं
लेकिन उस तरह से समाज में
स्वतंत्रता के उपभोग और
इसके गण को हासिल होने की
पहले कोई ठोस सूरत तो नजर आये
आज़ादी की छटाँक भर महक भी
तो करीने से
गण के गरीब मजलूम तबके को तर
कर पाए

और इस तरह
मुझ पर मित्र की बधाई उधार ही रही
गण के लिए उस स्वतंत्रतादेह पल के
आने के इंतज़ार में!

Language: Hindi
336 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr MusafiR BaithA
View all
You may also like:
ॐ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
वीणा का तार 'मध्यम मार्ग '
वीणा का तार 'मध्यम मार्ग '
Buddha Prakash
पत्नी (दोहावली)
पत्नी (दोहावली)
Subhash Singhai
* राह चुनने का समय *
* राह चुनने का समय *
surenderpal vaidya
जब मैसेज और काॅल से जी भर जाता है ,
जब मैसेज और काॅल से जी भर जाता है ,
Manoj Mahato
#इंतज़ार_जारी
#इंतज़ार_जारी
*Author प्रणय प्रभात*
"सबसे बढ़कर"
Dr. Kishan tandon kranti
नौजवान सुभाष
नौजवान सुभाष
Aman Kumar Holy
हमारी हार के किस्सों के हिस्से हो गए हैं
हमारी हार के किस्सों के हिस्से हो गए हैं
सिद्धार्थ गोरखपुरी
सूर्य देव
सूर्य देव
Bodhisatva kastooriya
*माता चरणों में विनय, दो सद्बुद्धि विवेक【कुंडलिया】*
*माता चरणों में विनय, दो सद्बुद्धि विवेक【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
"मुश्किल वक़्त और दोस्त"
Lohit Tamta
किसी की किस्मत संवार के देखो
किसी की किस्मत संवार के देखो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
पत्नी-स्तुति
पत्नी-स्तुति
नंदलाल सिंह 'कांतिपति'
जिंदगी को रोशन करने के लिए
जिंदगी को रोशन करने के लिए
Ragini Kumari
भर मुझको भुजपाश में, भुला गई हर राह ।
भर मुझको भुजपाश में, भुला गई हर राह ।
Arvind trivedi
*भगवान के नाम पर*
*भगवान के नाम पर*
Dushyant Kumar
2780. *पूर्णिका*
2780. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
बिन फ़न के, फ़नकार भी मिले और वे मौके पर डँसते मिले
बिन फ़न के, फ़नकार भी मिले और वे मौके पर डँसते मिले
Anand Kumar
"आशा" की चौपाइयां
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
-- कैसा बुजुर्ग --
-- कैसा बुजुर्ग --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
चौकड़िया छंद के प्रमुख नियम
चौकड़िया छंद के प्रमुख नियम
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
सिंह सा दहाड़ कर
सिंह सा दहाड़ कर
Gouri tiwari
इश्क़ ला हासिल का हासिल कुछ नहीं
इश्क़ ला हासिल का हासिल कुछ नहीं
shabina. Naaz
चारू कात देख दुनियां कें,सोचि रहल छी ठाड़ भेल !
चारू कात देख दुनियां कें,सोचि रहल छी ठाड़ भेल !
DrLakshman Jha Parimal
💐प्रेम कौतुक-223💐
💐प्रेम कौतुक-223💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
~~बस यूँ ही~~
~~बस यूँ ही~~
Dr Manju Saini
आरम्भ
आरम्भ
Neeraj Agarwal
हम तो यही बात कहेंगे
हम तो यही बात कहेंगे
gurudeenverma198
Loading...