Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Mar 2023 · 1 min read

बता जमूरे !

बता जमूरे !

बता जमूरे !
नाचेगी कबतक रस्सी पर !
छोटी-सी यह बच्ची |

एक मदारी के कुनबे का,
वह है कुशल सदस्य,
बना हुआ है जीवन उसका,
अबतक अटल रहस्य,
धंधे पर बस लगी हुई है,
उमर बहुत है कच्ची |

समझबूझ अनबूझ पहेली,
रोटी एक समस्या,
पता नहीं, कबतक पूरी हो,
साधनहीन तपस्या,
कबतक भूख करेगी रह-रह,
झंझट, माथापच्ची |

भूख-प्यास है एक कसौटी,
जीवन एक तमाशा,
बुद्धिवाद भी बजा रहा है,
मात्र स्वार्थ का ताशा,
आँखों देखी एक ख़बर यह,
और बात है सच्ची |

शिवानन्द सिंह ‘सहयोगी’
मेरठ
04.03.2023

Language: Hindi
1 Like · 182 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
प्रीत
प्रीत
Mahesh Tiwari 'Ayan'
योग
योग
जगदीश शर्मा सहज
बिना रुके रहो, चलते रहो,
बिना रुके रहो, चलते रहो,
Kanchan Alok Malu
समझ
समझ
Dinesh Kumar Gangwar
थाल सजाकर दीप जलाकर रोली तिलक करूँ अभिनंदन ‌।
थाल सजाकर दीप जलाकर रोली तिलक करूँ अभिनंदन ‌।
Neelam Sharma
*नन्हीं सी गौरिया*
*नन्हीं सी गौरिया*
Shashi kala vyas
वक्त इतना बदल गया है क्युँ
वक्त इतना बदल गया है क्युँ
Shweta Soni
2867.*पूर्णिका*
2867.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आदमी
आदमी
अखिलेश 'अखिल'
लड़की की जिंदगी/ कन्या भूर्ण हत्या
लड़की की जिंदगी/ कन्या भूर्ण हत्या
Raazzz Kumar (Reyansh)
दिल के हर
दिल के हर
Dr fauzia Naseem shad
लंबा सफ़र
लंबा सफ़र
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
भूमि दिवस
भूमि दिवस
SATPAL CHAUHAN
अंधा वो नहीं होता है
अंधा वो नहीं होता है
ओंकार मिश्र
सुनो पहाड़ की....!!! (भाग - ७)
सुनो पहाड़ की....!!! (भाग - ७)
Kanchan Khanna
"इंसान की जमीर"
Dr. Kishan tandon kranti
मास्टर जी: एक अनकही प्रेमकथा (प्रतिनिधि कहानी)
मास्टर जी: एक अनकही प्रेमकथा (प्रतिनिधि कहानी)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
ज़िक्र-ए-वफ़ा हो या बात हो बेवफ़ाई की ,
ज़िक्र-ए-वफ़ा हो या बात हो बेवफ़ाई की ,
sushil sarna
*बारिश आई (बाल कविता)*
*बारिश आई (बाल कविता)*
Ravi Prakash
सियासत जाती और धर्म की अच्छी नहीं लेकिन,
सियासत जाती और धर्म की अच्छी नहीं लेकिन,
Manoj Mahato
इश्क़ है तो इश्क़ का इज़हार होना चाहिए
इश्क़ है तो इश्क़ का इज़हार होना चाहिए
पूर्वार्थ
रचो महोत्सव
रचो महोत्सव
लक्ष्मी सिंह
"नवरात्रि पर्व"
Pushpraj Anant
मरने वालों का तो करते है सब ही खयाल
मरने वालों का तो करते है सब ही खयाल
shabina. Naaz
दुर्लभ हुईं सात्विक विचारों की श्रृंखला
दुर्लभ हुईं सात्विक विचारों की श्रृंखला
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मनमोहिनी प्रकृति, क़ी गोद मे ज़ा ब़सा हैं।
मनमोहिनी प्रकृति, क़ी गोद मे ज़ा ब़सा हैं।
कार्तिक नितिन शर्मा
सुबह-सुबह की चाय और स़ंग आपका
सुबह-सुबह की चाय और स़ंग आपका
Neeraj Agarwal
जिंदगी का भरोसा कहां
जिंदगी का भरोसा कहां
Surinder blackpen
शराब
शराब
RAKESH RAKESH
यह अपना रिश्ता कभी होगा नहीं
यह अपना रिश्ता कभी होगा नहीं
gurudeenverma198
Loading...