Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Jul 2023 · 1 min read

*फितरत*

फितरत
फितरत है मेरी, ना यूं ही बातें बनाना।
फितरत है मेरी, खुद को मजबूत बनाना।
फितरत है मेरी, ना दूसरों को सताना।
फितरत है मेरी, ना झूठी बात बनाना।
फितरत है मेरी, ना यूं ही समय गंवाना।
फितरत है मेरी, अपनो को मनाना।
फितरत है मेरी, खुद राह आसान बनाना।
फितरत है मेरी, सोतो को जगाना।
फितरत है मेरी, ना कमजोर को सताना।
फितरत है मेरी, भटको को राह बताना।
फितरत है मेरी, कुछ जीवन में कर जाना।
फितरत है मेरी, आगे को बढ़ते जाना।
फितरत है मेरी, ना मेरी जय गाए जमाना।
दुष्यन्त कुमार नाम है मेरा, खुद मैं यथार्थवादी हूं।
सच को सच लिखना सीखो मैं ऐसा फरियादी हूं।।

7 Likes · 391 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dushyant Kumar
View all
You may also like:
रिश्ते
रिश्ते
Ram Krishan Rastogi
कठिन परिश्रम साध्य है, यही हर्ष आधार।
कठिन परिश्रम साध्य है, यही हर्ष आधार।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
ऐसा क्यों होता है..?
ऐसा क्यों होता है..?
Dr Manju Saini
देवो रुष्टे गुरुस्त्राता गुरु रुष्टे न कश्चन:।गुरुस्त्राता ग
देवो रुष्टे गुरुस्त्राता गुरु रुष्टे न कश्चन:।गुरुस्त्राता ग
Shashi kala vyas
जय श्री राम
जय श्री राम
आर.एस. 'प्रीतम'
राम लला
राम लला
Satyaveer vaishnav
हमें ना शिकायत है आप सभी से,
हमें ना शिकायत है आप सभी से,
Dr. Man Mohan Krishna
रिश्ते
रिश्ते
Harish Chandra Pande
सफ़र ठहरी नहीं अभी पड़ाव और है
सफ़र ठहरी नहीं अभी पड़ाव और है
Koमल कुmari
सह जाऊँ हर एक परिस्थिति मैं,
सह जाऊँ हर एक परिस्थिति मैं,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
बात तो कद्र करने की है
बात तो कद्र करने की है
Surinder blackpen
गीत
गीत
Shiva Awasthi
वाह नेता जी!
वाह नेता जी!
Sanjay ' शून्य'
कभी उसकी कदर करके देखो,
कभी उसकी कदर करके देखो,
पूर्वार्थ
हाथों ने पैरों से पूछा
हाथों ने पैरों से पूछा
Shubham Pandey (S P)
माँ की यादें
माँ की यादें
मनोज कर्ण
तुम मन मंदिर में आ जाना
तुम मन मंदिर में आ जाना
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
यात्राएं करो और किसी को मत बताओ
यात्राएं करो और किसी को मत बताओ
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
#मायका #
#मायका #
rubichetanshukla 781
हे बुद्ध
हे बुद्ध
Dr.Pratibha Prakash
मजहब
मजहब
Dr. Pradeep Kumar Sharma
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
खारे पानी ने भी प्यास मिटा दी है,मोहब्बत में मिला इतना गम ,
खारे पानी ने भी प्यास मिटा दी है,मोहब्बत में मिला इतना गम ,
goutam shaw
बे-असर
बे-असर
Sameer Kaul Sagar
*छ्त्तीसगढ़ी गीत*
*छ्त्तीसगढ़ी गीत*
Dr.Khedu Bharti
आदि ब्रह्म है राम
आदि ब्रह्म है राम
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
मन-गगन!
मन-गगन!
Priya princess panwar
अमावस्या में पता चलता है कि पूर्णिमा लोगो राह दिखाती है जबकि
अमावस्या में पता चलता है कि पूर्णिमा लोगो राह दिखाती है जबकि
Rj Anand Prajapati
आप वही करें जिससे आपको प्रसन्नता मिलती है।
आप वही करें जिससे आपको प्रसन्नता मिलती है।
लक्ष्मी सिंह
आज के बच्चों की बदलती दुनिया
आज के बच्चों की बदलती दुनिया
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Loading...