Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Apr 2024 · 1 min read

“फासला और फैसला”

“फासला और फैसला”
फासला और फैसला
बड़े काम की चीज है यारों,
ज्यादा फासला और
गलत फैसला से
सदा बचकर रहिए।

1 Like · 1 Comment · 35 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
मैं प्रेम लिखूं जब कागज़ पर।
मैं प्रेम लिखूं जब कागज़ पर।
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
गणतंत्र दिवस
गणतंत्र दिवस
विजय कुमार अग्रवाल
बात न बनती युद्ध से, होता बस संहार।
बात न बनती युद्ध से, होता बस संहार।
डॉ.सीमा अग्रवाल
एक दिन में तो कुछ नहीं होता
एक दिन में तो कुछ नहीं होता
shabina. Naaz
प्रेम तुझे जा मुक्त किया
प्रेम तुझे जा मुक्त किया
Neelam Sharma
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
ग़ज़ल
ग़ज़ल
आर.एस. 'प्रीतम'
अर्जुन सा तू तीर रख, कुंती जैसी पीर।
अर्जुन सा तू तीर रख, कुंती जैसी पीर।
Suryakant Dwivedi
"सूत्र-सिद्धान्त"
Dr. Kishan tandon kranti
भौतिकता
भौतिकता
लक्ष्मी सिंह
*बल गीत (वादल )*
*बल गीत (वादल )*
Rituraj shivem verma
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
अपनी गलती से कुछ नहीं सीखना
अपनी गलती से कुछ नहीं सीखना
Paras Nath Jha
*अभिनंदन हे तर्जनी, तुम पॉंचों में खास (कुंडलिया)*
*अभिनंदन हे तर्जनी, तुम पॉंचों में खास (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
I am Yash Mehra
I am Yash Mehra
Yash mehra
बिल्कुल नहीं हूँ मैं
बिल्कुल नहीं हूँ मैं
Aadarsh Dubey
ਯੂਨੀਵਰਸਿਟੀ ਦੇ ਗਲਿਆਰੇ
ਯੂਨੀਵਰਸਿਟੀ ਦੇ ਗਲਿਆਰੇ
Surinder blackpen
23/194. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/194. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
श्रीकृष्ण
श्रीकृष्ण
Raju Gajbhiye
विश्रान्ति.
विश्रान्ति.
Heera S
सागर प्रियतम प्रेम भरा है हमको मिलने जाना है।
सागर प्रियतम प्रेम भरा है हमको मिलने जाना है।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
रोना ना तुम।
रोना ना तुम।
Taj Mohammad
प्रभु संग प्रीति
प्रभु संग प्रीति
Pratibha Pandey
#लघुकथा
#लघुकथा
*Author प्रणय प्रभात*
भूख
भूख
नाथ सोनांचली
जिदंगी भी साथ छोड़ देती हैं,
जिदंगी भी साथ छोड़ देती हैं,
Umender kumar
*ग़ज़ल*
*ग़ज़ल*
शेख रहमत अली "बस्तवी"
May 3, 2024
May 3, 2024
DR ARUN KUMAR SHASTRI
अब नये साल में
अब नये साल में
डॉ. शिव लहरी
नारी
नारी
Acharya Rama Nand Mandal
Loading...