Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#6 Trending Author
May 2, 2022 · 1 min read

फरिश्तों सा कमाल है।

यूं फरिश्तों सा कमाल है उसमे।
हर सवाल का जवाब है उसमे।।1।।

तसव्वुर को हकीकत बना दे।
नजूमियाँ सा दिमाग़ है उसमे।।2।।

बड़ी शिफा है हाथों में उसके।
खुदा का सदा खयाल है उसमें।।3।।

नजरे ना हटती चेहरे से उसकी।
ऐसा यूसुफ ए जमाल है उसमें।।4।।

परवाज क्या बताएं हम उसकी।
परिंदो सी ऊंची उड़ान है उसमें।।5।।

कोई क्या लड़ेगा जंग में उससे।
अली सा कुव्वते जलाल है उसमें।।6।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

1 Like · 2 Comments · 64 Views
You may also like:
हर दिन इसी तरह
gurudeenverma198
बहुत घूमा हूं।
Taj Mohammad
गंगा से है प्रेमभाव गर
VINOD KUMAR CHAUHAN
You are my life.
Taj Mohammad
फरिश्तों सा कमाल है।
Taj Mohammad
हम और तुम जैसे…..
Rekha Drolia
मुझको ये जीवन जीना है
Saraswati Bajpai
मां
Umender kumar
सहारा
अरशद रसूल /Arshad Rasool
ग़ज़ल- मज़दूर
आकाश महेशपुरी
पिता ईश्वर का दूसरा रूप है।
Taj Mohammad
रिश्तों की डोर
मनोज कर्ण
जिंदगी
AMRESH KUMAR VERMA
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
हौसला
Mahendra Rai
हे विधाता शरण तेरी
Saraswati Bajpai
संताप
ओनिका सेतिया 'अनु '
बारिश का सुहाना माहौल
KAMAL THAKUR
*राजा राम सिंह : रामपुर और मुरादाबाद के पितामह*
Ravi Prakash
राहतें ना थी।
Taj Mohammad
जहर कहां से आया
Dr. Rajeev Jain
* तुम्हारा ऐहसास *
Dr. Alpa H. Amin
तेरे संग...
Dr. Alpa H. Amin
"शौर्य"
Lohit Tamta
रमेश कुमार जैन ,उनकी पत्रिका रजत और विशाल आयोजन
Ravi Prakash
तुम कहते हो।
Taj Mohammad
मेरे पापा जैसे कोई नहीं.......... है न खुदा
Nitu Sah
बेचैन कागज
Dr Meenu Poonia
हमने किस्मत से आँखें लड़ाई मगर
VINOD KUMAR CHAUHAN
जो आया है इस जग में वह जाएगा।
Anamika Singh
Loading...