Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 Mar 2024 · 1 min read

“प्लेटो ने कहा था”

“प्लेटो ने कहा था”
जीवन का निचोड़ पूछने पर
मृत्यु शैय्या पर लेटे हुए
प्लेटो ने कहा था-
‘प्रैक्टिस डाइंग’ यानी
अन्त (मौत) को याद रखो,
ये अहसास लिए
भावी जिन्दगी की ओर बढ़ो।

1 Like · 1 Comment · 61 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr. Kishan tandon kranti
View all
You may also like:
// सुविचार //
// सुविचार //
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
एडमिन क हाथ मे हमर सांस क डोरि अटकल अछि  ...फेर सेंसर ..
एडमिन क हाथ मे हमर सांस क डोरि अटकल अछि ...फेर सेंसर .."पद्
DrLakshman Jha Parimal
जिन्दगी की किताब में
जिन्दगी की किताब में
Mangilal 713
■सामान संहिता■
■सामान संहिता■
*Author प्रणय प्रभात*
मनोरम तेरा रूप एवं अन्य मुक्तक
मनोरम तेरा रूप एवं अन्य मुक्तक
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
*Lesser expectations*
*Lesser expectations*
Poonam Matia
हर हक़ीक़त को
हर हक़ीक़त को
Dr fauzia Naseem shad
ह्रदय जब स्वच्छता से ओतप्रोत होगा।
ह्रदय जब स्वच्छता से ओतप्रोत होगा।
Sahil Ahmad
देखिए आप आप सा हूँ मैं
देखिए आप आप सा हूँ मैं
Anis Shah
*जीवन का आनन्द*
*जीवन का आनन्द*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कैसे कहूँ ‘आनन्द‘ बनने में ज़माने लगते हैं
कैसे कहूँ ‘आनन्द‘ बनने में ज़माने लगते हैं
Anand Kumar
पुरुष चाहे जितनी बेहतरीन पोस्ट कर दे
पुरुष चाहे जितनी बेहतरीन पोस्ट कर दे
शेखर सिंह
वो किताब अब भी जिन्दा है।
वो किताब अब भी जिन्दा है।
दुर्गा प्रसाद नाग
तलाशता हूँ -
तलाशता हूँ - "प्रणय यात्रा" के निशाँ  
Atul "Krishn"
जब अथक प्रयास करने के बाद आप अपनी खराब आदतों पर विजय प्राप्त
जब अथक प्रयास करने के बाद आप अपनी खराब आदतों पर विजय प्राप्त
Paras Nath Jha
नज़रें!
नज़रें!
कविता झा ‘गीत’
"लाचार मैं या गुब्बारे वाला"
संजय कुमार संजू
क्या पता...... ?
क्या पता...... ?
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
*मुर्गा (बाल कविता)*
*मुर्गा (बाल कविता)*
Ravi Prakash
.....★.....
.....★.....
Abhishek Shrivastava "Shivaji"
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
बचपन कितना सुंदर था।
बचपन कितना सुंदर था।
Surya Barman
धूल के फूल
धूल के फूल
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
World Hypertension Day
World Hypertension Day
Tushar Jagawat
3303.⚘ *पूर्णिका* ⚘
3303.⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
हाँ, तैयार हूँ मैं
हाँ, तैयार हूँ मैं
gurudeenverma198
"यायावरी" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
बारिश की संध्या
बारिश की संध्या
महेश चन्द्र त्रिपाठी
दोहा -
दोहा -
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
प्रशांत सोलंकी
प्रशांत सोलंकी
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
Loading...