Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Mar 2017 · 1 min read

प्रियतम

??????????????.
प्रियतम अपनी प्रेम कहानी.
लगती है कोई प्रीत पुरानी.

जनम जनम की चाहत अपनी
मैं हूँ तेरी प्रेम दिवानी.

तू मेरे मैं तेरे दिल में.
मिलकर हमने प्रीत निभीनी.

संग में साजन तुम जो रहते.
लगती फिर है शाम सुहानी.

भूलू चाहे सारे जहाँ को.
नही तुम्हारी प्रीत भुलानी.

हँसतॉ हँसते जीवन बीते
आने न देगे आँख में पानी.

??????????????
संगीता शर्मा.
????????????14/2/2017

Language: Hindi
3 Likes · 1 Comment · 1030 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
जन मन में हो उत्कट चाह
जन मन में हो उत्कट चाह
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
आजादी विचारों से होनी चाहिये
आजादी विचारों से होनी चाहिये
Radhakishan R. Mundhra
हक़ीक़त ने
हक़ीक़त ने
Dr fauzia Naseem shad
यदि मन में हो संकल्प अडिग
यदि मन में हो संकल्प अडिग
महेश चन्द्र त्रिपाठी
#आज_का_संदेश
#आज_का_संदेश
*Author प्रणय प्रभात*
*दासता जीता रहा यह, देश निज को पा गया (मुक्तक)*
*दासता जीता रहा यह, देश निज को पा गया (मुक्तक)*
Ravi Prakash
मेघा तू सावन में आना🌸🌿🌷🏞️
मेघा तू सावन में आना🌸🌿🌷🏞️
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
मैं चला बन एक राही
मैं चला बन एक राही
AMRESH KUMAR VERMA
कविता - नदी का वजूद
कविता - नदी का वजूद
Akib Javed
जिंदगी तुझको सलाम
जिंदगी तुझको सलाम
gurudeenverma198
*चाँद को भी क़बूल है*
*चाँद को भी क़बूल है*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
कवि होश में रहें / MUSAFIR BAITHA
कवि होश में रहें / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
युक्रेन और रूस ; संगीत
युक्रेन और रूस ; संगीत
कवि अनिल कुमार पँचोली
शिक्षक
शिक्षक
Dr. Pradeep Kumar Sharma
"ऐ जिन्दगी"
Dr. Kishan tandon kranti
सामाजिक न्याय
सामाजिक न्याय
Shekhar Chandra Mitra
तुम्हे तो अभी घर का रिवाज भी तो निभाना है
तुम्हे तो अभी घर का रिवाज भी तो निभाना है
शेखर सिंह
वाचाल पौधा।
वाचाल पौधा।
Rj Anand Prajapati
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ना प्रेम मिल सका ना दोस्ती मुकम्मल हुई...
ना प्रेम मिल सका ना दोस्ती मुकम्मल हुई...
Keshav kishor Kumar
एक सत्य यह भी
एक सत्य यह भी
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
आप वक्त को थोड़ा वक्त दीजिए वह आपका वक्त बदल देगा ।।
आप वक्त को थोड़ा वक्त दीजिए वह आपका वक्त बदल देगा ।।
लोकेश शर्मा 'अवस्थी'
कहां गए (कविता)
कहां गए (कविता)
Akshay patel
हर नदी अपनी राह खुद ब खुद बनाती है ।
हर नदी अपनी राह खुद ब खुद बनाती है ।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
तेरी
तेरी
Naushaba Suriya
वर्तमान, अतीत, भविष्य...!!!!
वर्तमान, अतीत, भविष्य...!!!!
Jyoti Khari
प्रबुद्ध लोग -
प्रबुद्ध लोग -
Raju Gajbhiye
Few incomplete wishes💔
Few incomplete wishes💔
Vandana maurya
लड़की कभी एक लड़के से सच्चा प्यार नही कर सकती अल्फाज नही ये
लड़की कभी एक लड़के से सच्चा प्यार नही कर सकती अल्फाज नही ये
Rituraj shivem verma
सत्य की खोज
सत्य की खोज
Rekha Drolia
Loading...