Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 May 2023 · 1 min read

*प्रसादी जिसको देता है, उसे संसार कम देगा 【मुक्तक】*

प्रसादी जिसको देता है, उसे संसार कम देगा 【मुक्तक】
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
हमें ईश्वर कभी खुशियाँ, कभी जीवन में गम देगा
हँसी देगा कभी अधरों को, अक्सर आँख नम देगा
गहन उसकी उलटबाँसी को हम हर्गिज न समझेंगे
प्रसादी जिसको देता है, उसे संसार कम देगा
—————————————————
रचयिता : रवि प्रकाश ,बाजार सर्राफा
रामपुर (उत्तर प्रदेश)
मोबाइल 99976 15451

338 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Ravi Prakash
View all
You may also like:
कौड़ी कौड़ी माया जोड़े, रटले राम का नाम।
कौड़ी कौड़ी माया जोड़े, रटले राम का नाम।
Anil chobisa
RKASHA BANDHAN
RKASHA BANDHAN
डी. के. निवातिया
"बचपन"
Tanveer Chouhan
सिर्फ व्यवहारिक तौर पर निभाये गए
सिर्फ व्यवहारिक तौर पर निभाये गए
Ragini Kumari
एक शख्स
एक शख्स
Pratibha Pandey
सावधानी हटी दुर्घटना घटी
सावधानी हटी दुर्घटना घटी
Sanjay ' शून्य'
तू है तो फिर क्या कमी है
तू है तो फिर क्या कमी है
Surinder blackpen
Dr Arun Kumar Shastri
Dr Arun Kumar Shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बेचारे नेता
बेचारे नेता
गुमनाम 'बाबा'
चाहे जितनी हो हिमालय की ऊँचाई
चाहे जितनी हो हिमालय की ऊँचाई
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
जय श्री राम
जय श्री राम
आर.एस. 'प्रीतम'
आज़ादी के दीवाने
आज़ादी के दीवाने
करन ''केसरा''
~~~~~~~~~~~~~~
~~~~~~~~~~~~~~
Hanuman Ramawat
रामावतार रामायणसार 🙏🙏
रामावतार रामायणसार 🙏🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
अगर आप नकारात्मक हैं
अगर आप नकारात्मक हैं
*Author प्रणय प्रभात*
अब किसपे श्रृंगार करूँ
अब किसपे श्रृंगार करूँ
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
लव यू इंडिया
लव यू इंडिया
Kanchan Khanna
स्मृतिशेष मुकेश मानस : टैलेंटेड मगर अंडररेटेड दलित लेखक / MUSAFIR BAITHA 
स्मृतिशेष मुकेश मानस : टैलेंटेड मगर अंडररेटेड दलित लेखक / MUSAFIR BAITHA 
Dr MusafiR BaithA
सम्मान करे नारी
सम्मान करे नारी
Dr fauzia Naseem shad
चिड़िया
चिड़िया
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कुछ भी नहीं हमको फायदा, तुमको अगर हम पा भी ले
कुछ भी नहीं हमको फायदा, तुमको अगर हम पा भी ले
gurudeenverma198
" ढले न यह मुस्कान "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
हमेशा गिरगिट माहौल देखकर रंग बदलता है
हमेशा गिरगिट माहौल देखकर रंग बदलता है
शेखर सिंह
जाने क्या छुटा रहा मुझसे
जाने क्या छुटा रहा मुझसे
Sandhya Chaturvedi(काव्यसंध्या)
संबंध क्या
संबंध क्या
Shweta Soni
सारी फिज़ाएं छुप सी गई हैं
सारी फिज़ाएं छुप सी गई हैं
VINOD CHAUHAN
मैं सब कुछ लिखना चाहता हूँ
मैं सब कुछ लिखना चाहता हूँ
Neeraj Mishra " नीर "
*नासमझ*
*नासमझ*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
शिव तेरा नाम
शिव तेरा नाम
Swami Ganganiya
उदासी
उदासी
DR. Kaushal Kishor Shrivastava
Loading...