Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2024 · 1 min read

प्यासा पानी जानता,.

@highlight
~पानी~
प्यासा पानी जानता, होती कैसी प्यास ।
लग जाती जब प्यास तो, आये ना कुछ रास।।१

पानी जग का मूल है,घर इसका पाताल।
जीवन रक्षा के लिए,बसा नदी औ ताल।।२

पानी बहुत अमोल है, यह जाने सब लोग।
पानी रक्षा सब करें, नही बढ़ेंगे रोग।।३

पानी बिन यह जग सखे,बन जाये शमशान।
एक पानी बचाव से ,जीवन हो आसान।।४

पानी का आभाव तो,रहा दिख सब ओर ।
बोतल -बोतल बिक रहा, इसमें भी है चोर।।५

पानी से यह जगत है,करो नही नुकसान।
इसे बचाओ तो सखे,खुश होते भगवान।।६
-‘प्यासा’

Language: English
1 Like · 56 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
खेत का सांड
खेत का सांड
आनन्द मिश्र
जिंदगी की पहेली
जिंदगी की पहेली
RAKESH RAKESH
पुराने पन्नों पे, क़लम से
पुराने पन्नों पे, क़लम से
The_dk_poetry
Maa pe likhne wale bhi hai
Maa pe likhne wale bhi hai
Ankita Patel
एक अरसा हो गया गाँव गये हुए, बचपन मे कभी कभी ही जाने का मौका
एक अरसा हो गया गाँव गये हुए, बचपन मे कभी कभी ही जाने का मौका
पूर्वार्थ
** समय कीमती **
** समय कीमती **
surenderpal vaidya
इंसान दुनिया जमाने से भले झूठ कहे
इंसान दुनिया जमाने से भले झूठ कहे
ruby kumari
छोटी सी प्रेम कहानी
छोटी सी प्रेम कहानी
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
.......,,
.......,,
शेखर सिंह
किसान का दर्द
किसान का दर्द
Tarun Singh Pawar
इश्क में हमसफ़र हों गवारा नहीं ।
इश्क में हमसफ़र हों गवारा नहीं ।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
परवाज़ की कोशिश
परवाज़ की कोशिश
Shekhar Chandra Mitra
गजल
गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
// होली में ......
// होली में ......
Chinta netam " मन "
हा मैं हारता नहीं, तो जीतता भी नहीं,
हा मैं हारता नहीं, तो जीतता भी नहीं,
Sandeep Mishra
जो दिखता है नहीं सच वो हटा परदा ज़रा देखो
जो दिखता है नहीं सच वो हटा परदा ज़रा देखो
आर.एस. 'प्रीतम'
जाना जग से कब भला , पाया कोई रोक (कुंडलिया)*
जाना जग से कब भला , पाया कोई रोक (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
मुझे भी जीने दो (भ्रूण हत्या की कविता)
मुझे भी जीने दो (भ्रूण हत्या की कविता)
Dr. Kishan Karigar
सच अति महत्वपूर्ण यह,
सच अति महत्वपूर्ण यह,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सुंदरता विचारों व चरित्र में होनी चाहिए,
सुंदरता विचारों व चरित्र में होनी चाहिए,
Ranjeet kumar patre
👨‍🎓मेरा खाली मटका माइंड
👨‍🎓मेरा खाली मटका माइंड
Ms.Ankit Halke jha
"यादों की बारात"
Dr. Kishan tandon kranti
मायापुर यात्रा की झलक
मायापुर यात्रा की झलक
Pooja Singh
जिसके मन तृष्णा रहे, उपजे दुख सन्ताप।
जिसके मन तृष्णा रहे, उपजे दुख सन्ताप।
अभिनव अदम्य
मुझको उनसे क्या मतलब है
मुझको उनसे क्या मतलब है
gurudeenverma198
हादसें पूंछ कर न आएंगे
हादसें पूंछ कर न आएंगे
Dr fauzia Naseem shad
🙅पूर्वानुमान🙅
🙅पूर्वानुमान🙅
*Author प्रणय प्रभात*
स्वाधीनता के घाम से।
स्वाधीनता के घाम से।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
पतझड़
पतझड़
ओसमणी साहू 'ओश'
दर्द
दर्द
Dr. Seema Varma
Loading...