Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Apr 30, 2022 · 1 min read

पिता

हर मुश्किल में वे चट्टान बन कर अड़े है।
हर जरूरत के समय मेरे पास ही खड़े हैं।।
दुनिया की हकीकतों से रूबरू कराने वाले हैं।
सही गलत की मुझको पहचान कराने वाले हैं।।
दिखने में बहुत सख्त मगर नर्म दिल इंसान है।
दुनिया की नजरों में पिता पर मेरे लिए भगवान हैं।।
घोड़ा बनकर पहली सवारी उन्होंने ही करवाई थी।
कंधे पे बिठा के रामलीला भी उन्होंने ही दिखाई थी।।
आपके रौबीले चेहरे पर पूरे परिवार को फिक्र होता हैं।
डांट डपट का भयंकर रूह तक असर होता हैं।।
उंगली थाम के चलने में जो सुकून मिलता हैं।
गाँव देहात के अनेक किस्सों में जनून मिलता है।।
मेहनत की एक एक पाई की कीमत को जानते हैं।
हर रिश्ते की मर्यादा अच्छी तरह से पहचानते हैं।।
एक गुरु मंत्र उनका मेरे कानों रोजाना गूँजता हैं।
इसलिए मेरा मन हर पल आपको बार बार प्रणाम करता है।।
नाकामियों को पीछे छोड़ आगे ही बढ़ते ही जाते हैं।
उनकी शान में चाहे कुछ भी लिखू कम ही लगता है।।
बेटा चाहे कुछ भी बन जाये पर पिता से छोटा रहता है।
जिस सम्मान के वो हकदार है उन्हें वही सम्मान दे।।

शंकर आंजणा नवापुरा
बागोड़ा जालोर-2343032

6 Likes · 6 Comments · 168 Views
You may also like:
सागर बोला, सुन ज़रा
सूर्यकांत द्विवेदी
दर्द की कश्ती
DESH RAJ
बुरी आदत
AMRESH KUMAR VERMA
जगत के स्वामी
AMRESH KUMAR VERMA
फिर एक समस्या
डॉ एल के मिश्र
मुझे तुम्हारी जरूरत नही...
Sapna K S
हमारी प्यारी मां
Shriyansh Gupta
🌻🌻🌸"इतना क्यों बहका रहे हो,अपने अन्दाज पर"🌻🌻🌸
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मैं कौन हूँ
Vikas Sharma'Shivaaya'
चलो आग-ए-इश्क का दरिया पार करते है।
Taj Mohammad
शाश्वत सत्य की कलम से।
Manisha Manjari
" नखरीली शालू "
Dr Meenu Poonia
अर्धनारीश्वर की अवधारणा...?
मनोज कर्ण
फूलों का नया शौक पाला है।
Taj Mohammad
प्रार्थना(कविता)
श्रीहर्ष आचार्य
तुम और मैं
Ram Krishan Rastogi
पानी
Vikas Sharma'Shivaaya'
ईश्वर का खेल
Anamika Singh
✍️जिंदगी क्या है...✍️
"अशांत" शेखर
इन्तिजार तुम करना।
Taj Mohammad
"कर्मफल
Vikas Sharma'Shivaaya'
कविता - राह नहीं बदलूगां
Chatarsingh Gehlot
जो बीत गई।
Taj Mohammad
यह कैसा एहसास है
Anuj yadav
शेर राजा
Buddha Prakash
पिता
Shankar J aanjna
प्रेम
Vikas Sharma'Shivaaya'
क्यों मार दिया,सिद्दू मूसावाले को
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
" शौक बड़ी चीज़ है या मजबूरी "
Dr Meenu Poonia
★TIME IS THE TEACHER OF HUMAN ★
KAMAL THAKUR
Loading...